• Wed. Oct 28th, 2020

Bharat Sarathi

A Complete News Website

ब्लाइंड मर्डर का मामला सुलझा हत्यारोपी को किया काबू

रोडरेज के कारण कहासुनी, की मारपीट, ईलाज के दौरान मृत्यु.
पुलिस रिमाण्ड लेकर अन्य साथी व हथियार-वाहन करेंगे बरामद

फतह सिंह उजाला

गुरूग्राम।    थाना खेड़की दौला, गुरुग्राम में एक सूचना मेडिओर हस्पताल, मानेसर से घायल अवस्था मे नेत्रपाल नामक युवक के एडमिट होने के संबंध में प्राप्त हुई। सूचना पर पुलिस हॉस्पिटल पहुँच गई जहां डॉक्टर ने पीड़ित की कई चोटे दर्शाई हुई तथा सिर में लगी चोटें भी दर्शाया बताया गया। पीड़ित नेत्रपाल सिँह के भतीजे चेतन ने घायल की ज्यादा तबीयत खराब होने के कारण पीड़ित/घायल की मेडिओर हस्पताल से फोरटिस हस्पताल गुरूग्राम में रैफर कराकर दाखिल कराया गया। उसके बाद चेतन कुमार पुत्र रघुवर सिँह  न्यू पंचवटी कालोनी भाटीया मोड गाजीयाबाद ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि इसका मौसा नेत्रपाल सिँह पुत्र रामनाथ सिँह ,बसुन्दरा गाजीयाबाद है। जिसने दिल्ली गुडगाँव मे अपना व्यवसाय किया हुआ है।

11 अक्टूबर को इसका मौसा अपनी गाडी को लेकर गुरूग्राम मे अपने व्यवसाय के लिए आया हुआ था। इसके मौसा  के साथ व्यवसाय करने वाली युवती भी गाड़ी में थी। दोनो गाडी को लेकर  भांगरोला के पास पहुँचे तो एक स्कूटी चालक नाम पता नही मालुम ने गाडी के आगे स्कूटी लगाकर कहा की आपने मेरा एक्सीडेन्ट कर दिया है। इस बात पर दोनों मे कहासुनी हो गई तो स्कूटी चालक ने गाडी की चाबी छिनने के लिए लात व थप्पड मारे व लगभग 15 मीनट बाद स्कूटी चालक द्वारा अपने साथियों को बुला लिया व  इसके मौसा के सिर व शरीर पर लाठी डंडो से जानलेवा चोटें मारी। मौसा को जान से मारने के लिए उसके शरीर व सिर में काफी चोटें मारी , जिन चोटों के कारण वो बेहोश हो गए, जिनका ईलाज मेडियोर होस्पीटल मानेसर में कराया बाद में ज्याद तबीयत खराब होने के कारण गुरूग्राम में दाखिल करा दिया। पीड़ित नेत्रपाल सिंह की झगड़े में लगी चोटों के कारण ईलाज के दौरान मौत हो गई।

अभियोग में उप-निरीक्षक अमित कुमार, प्रभारी अपराध शाखा, मानेसर की पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए अपनी समझबूझ से उपरोक्त अभियोग में मारपीट करके हत्या करने की वारदात को अन्जाम देने वाले मुख्य आरोपी को डीघल, झज्जर से काबू करने में सफलता हासिल की है। आरोपी की पहचान ’रोहित उर्फ मोनू पुत्र शशिकांत निवासी काकरौला, जिला गुरुग्राम हाल निवासी गली नंबर-2 गढ़ी हरसरू, गुरुग्राम, उम्र-26 वर्ष’ के रूप में हुई।

आरोपी ने प्रारंभिक पुलिस पूछताछ में बतलाया कि इसकी स्कूटी उपरोक्त अभियोग में मृतक की गाड़ी को टच हो गई थी तो इसने गाड़ी के आगे अपनी स्कूटी लगाकर रुकवा लिया तो दोनों के बीच झगड़ा हो गया। इसी बीच इसने फोन करके अपने साथियों को बुला लिया और इन सबने मिलकर कार चालक को लाठी, डंडों से चोटें मारी और वहां से भाग गए। आरोपी को अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगा। पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपी के साथ उपरोक्त अभियोग की वारदात को अंजाम देने में शामिल अन्य साथी आरोपियों के बारे में गहनता से पूछताछ करते हुई वारदात में प्रयोग किए गए हथियार व वाहन बरामद किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap