• Mon. Nov 30th, 2020

Bharat Sarathi

A Complete News Website

कोविड19 माहमारी में साफ-सफाई और स्वास्थ्य में हम लापरवाह !

दुनिया की स्वास्थ्य व्यवस्था को कोविड19 ने लाचार साबित किया.
साफ-सफाई, संतुलित आहार, स्वास्थ्य पर जागरूकता अभियान 

फतह सिंह उजाला
गुरुग्राम। 
 कोविड19 माहमारी ने पूरे विश्व को सिखाया कि साफ-सफाई और स्वास्थ्य संबंधी मामलो में हम कितने लापरवाह है । जागरूकता की कमी ने ही हमे माहमारी से इस लड़ाई में पीछे धकेला है। साफ सफाई, संतुलित आहार का ध्यान रखना ही हमारी सीख है और इसे जिम्मेदारी के रूप में भी देखना होगा। तभी हम सब और पूरा समाज और देश भी इस आपदा और भविष्य में ऐसे आपदाओं से लड़ने के लिए तैयार हो पायेगा। जब इसे कर्तव्यों के रूप में देखा जायेगा तो एक व्यवस्था  के रूप में भी मजबूत हो पाएंगे। देश और दुनिया की स्वास्थ्य व्यवस्था जिसे  कोविड19 ने लाचार साबित किया फिर चाहे विश्व के बड़े और विकसित देश ही क्यों न हो।

यह जानकारी ब्रेक-थ्रू संस्था और महिला एवं बाल विकास विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मिलकर गुरुग्राम जिले के पचगांव में किशोर किशोरी- स्वास्थ्य मेला की शुरुआत करते हुए दी गयी । पचगांव में सुबह 10 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक गांव में सरकारी स्कूल, फाजिल्वास और कुकडोला तीन जगह पर स्वास्थ्य मेला आयोजित किया गया।  इसका उद्देश्य संवाद करना  है कि साफ-सफाई, संतुलित आहार और स्वास्थ्य का ध्यान कैसे रखा जाये। छोटी-छोटी कार्टून ( एनिमेटिड) वीडिओज के माध्यम से यह चर्चा की गई और जानकारी दी गयी की अपने स्वास्थ्य का ध्यान कैसे रखना हैं।

कोविड19 के खिलाफ हमारी जंग साफ-सफाई, संतुलित आहार और स्वास्थ्य सम्बन्धी जागरूकता से हो कर ही गुजरती है। कोविड19 को हराने के लिए हमें मिलकर इन मामलों में अपनी, खास तौर पर आने वाली पीढ़ी की समझ और जागरूकता बढ़ानी होगी। इसलिए ब्रेक-थ्रू ने इस अभियान की शुरुआत की हैं । नयोनिका ने इस अभियान को सफल बनाने के लिए सभी विभागों के साथ तालमेल बनाकर बेहतरीन प्रयास किये हैं। इस मेले में साफ-संतुलित-स्वच्छ के बारे में वीडियो दिखाकर लोगों से संवाद किया। कोविड के माहौल में भी खुद को कैसे स्वस्थ और बीमारी रहित रख सकते हैं। कसरत और संतुलित आहार के जरिये अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा सकते हैं। हमने प्रोजेक्टर के माध्यम से एनिमेटेड वीडियो दिखाए ताकि समुदाय में किशोर किशोरी और अन्य वयस्क लोग समझ सके और वीडियो हमे हमेशा प्रभावित और प्रेरित करते हैं। इसके अलावा पर्चे बांटकर जानकारी को और ज्यादा फैलाने का प्रयास किया।

ब्रेक-थ्रू से गुरुग्राम जिला प्रबंधक भारती ने कहा कि कोविड19 के खिलाफ लड़ाई में, कोविड सम्बन्धी सभी नियमो का पालन जरूरी है, जिनका  भरपूर ध्यान रखा गया। इन सभी मेलों के आयोजन गाँव में खुली जगह पर होंगे , ताकि उचित शारीरिक दूरी का पालन हो सके। सभी की उपस्तिथि से पहले ही सेनिटाइजर का प्रयोग किया जायेगा, किशोर- किशोरियों को मास्क वितरित किये जायेंगेद्य हर समुदाय में मेले से एक दिन पहले पोस्टर और पम्पलेट्स के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जायेगा।

30 से 50 ही लोगों को किया शामिल

हर स्पॉट्स पर लगभग 30 से 50 के छोटे समूहों में ही लोगों को ही शामिल किया जाएगा।  ताकि कोविड के नियमों का पालन हो। हर किसी गाँव को ध्यान में रखते हुए 3-5  स्पॉट पर आयोजन होगा। यह अभियान -19 नवम्बर से लेकर 15 दिसम्बर तक चलेगा जिसमें रोहतक, झज्जर, गुरुग्राम, सोनीपत, पानीपत और करनाल सहित 6 जिलों में चलाया जायेगा और 469 स्पॉट कवर किये जायेंगे। पचगांव में लगभग 90 किशोर – किशोरी व 60 गांव के लोग शामिल हुए । जिसमे 8 आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, तीन सरपंच ओर ब्रेकथ्रू संस्था से भारती , स्वाति,गोरी , अरविंद, सुशील के साथ  ब्रेकथ्रू संस्था के टीम चेंज लीड व युवा शामिल रहे।

जागरूकता मेला आयोजित कर रहे

ब्रेक-थ्रू एक महिला अधिकार संस्था है जो पिछले  20  वर्षों से प्रशिक्षण,  अभियानों और लोकप्रिय संस्कृति (नाटक, गीत, वीडियो आदि ) का इस्तेमाल करते हुए ऐसी भेदभावपूर्ण मान्यताओं को बदलना है । जो महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हिंसा और भेदभाव  को बढ़ावा देते हैं। ब्रेक-थ्रू का मिशन लैंगिक संवेदनशील किशोरों और युवा वयस्कों की एक पीढ़ी का निर्माण करके महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हिंसा और भेदभाव को अस्वीकार्य बनाना  हैं। इन दिनों ब्रेकथ्रू किशोर-किशोरियों व युवाओं के साथ मिलकर कोविड और स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता मेला आयोजित कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap