• Wed. Nov 25th, 2020

Bharat Sarathi

A Complete News Website

शिक्षा में बदलाव की बयार…सी बी एस ई स्कूलों को टक्कर देंगे सूबे के सरकारी स्कूल

एमएलए ने किया मॉडल संस्कृति सी. सें स्कूल का उद्घाटन.
आगामी शिक्षा सत्र से सीबीएसई पैटर्न पर पढ़ेंगे छात्र.
सरकार की नई शिक्षा नीति लाएगी क्रांतिकारी बदलाव

फतह सिंह उजाला
पटौदी ।
   नई शिक्षा नीति को अमलीजामा पहनाते हुए अब सीबीएसई एफिलिएटिड स्कूलों को टक्कर देने के लिए  सूबे के सरकारी स्कूल भी पूरी तरह से तैयार हैं । इसी कड़ी में सोमवार को पटौदी के एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता ने पटौदी ब्लॉक के पहले गवर्नमेंट मॉडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी स्कूल का औपचारिक रूप से उद्घाटन किया । इस स्कूल में आगामी शिक्षा सत्र से छात्रों को सीबीएसई पैटर्न पर ही पढ़ने की सुविधा उपलब्ध होगी ।

यहां स्कूल में आगमन पर सबसे पहले एमएलए जरावता ने विद्या की देवी सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष पुष्प अर्पित कर दीप प्रज्वलित करते हुए आशीर्वाद लिया । इसके उपरांत उन्होंने सीबीएसई पैटर्न के पहले सरकारी स्कूल गवर्नमेंट मॉडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी स्कूल पटौदी का विधिवत रूप से उद्घाटन किया। इस मौके पर जिला शिक्षा अधिकारी कैप्टन इंदु बोकन , खंड शिक्षा अधिकारी डाक्टर धर्मपाल, मेजबान स्कूल के प्रिंसिपल पुरुषोत्तम,  पटौदी नगर पालिका के चेयरमैन चंद्रभान सहगल विशेष रूप से मौजूद रहे।

गवर्नमेंट मॉडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी स्कूल पटौदी के उद्घाटन समारोह के मौके पर एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता ने कहा की समय के साथ-साथ शिक्षा व्यवस्था में बदलाव समय की जरूरत है । उन्होंने कहा कि हरियाणा की भाजपा सरकार के द्वारा औसतन 20 किलोमीटर की दूरी पर महिला कॉलेज खोले जा रहे हैं । इसी प्रकार से महिला शिक्षा को प्रोत्साहन देने के लिए ग्रामीण भौगोलिक स्थिति को केंद्र में रखकर कन्या विद्यालय अथवा गर्ल्स स्कूल भी खोले जाने की जरूरत है । जिससे कि ग्रामीण अंचल की छात्राएं औसतन 4 किलोमीटर के दायरे में ही शिक्षा प्राप्त करती रहे । उन्होंने बेबाक शब्दों में कहा कि आगामी 4 वर्ष के कार्यकाल के दौरान उनका लक्ष्य,  ऐसे तमाम स्कूलों को अपग्रेड करवाना है जोकि नियम और शर्तों को पूरा कर रहे हैं । इसके साथ ही यह भी लक्ष्य है कि अधिक से अधिक गर्ल्स स्कूल पटौदी क्षेत्र में खोले जा सके ।

उन्होंने कहा शिक्षा ही वह माध्यम है , जिसके द्वारा प्रत्येक इंसान की तरक्की का रास्ता प्रशस्त होता है। आज के समय में शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव आए हैं । अब दुनिया के किसी भी कोने में बैठा व्यक्ति कहीं भी ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण कर सकता है । इस मौके पर एमएलए एडवोकेट सत्य प्रकाश जरावता ने अपने से पूर्ववर्ती जनप्रतिनिधियों सहित सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि पटौदी जैसे पिछड़े क्षेत्र में जिस प्रकार की शिक्षा सुविधा और व्यवस्था मिलनी अथवा होनी चाहिए थी, इस तरह ईमानदारी और गंभीरता से प्रयास नहीं किया गया।

हुडा सेक्टर विकसित नहीं होने का कारण

उन्होंने कहा कि पटौदी के हुडा सेक्टर में भी इसके पूरी तरह से विकसित नहीं होने का मुख्य कारण वहां शिक्षा की व्यवस्था नहीं होना है । एमएलए जरावता ने कहा कि संबंधित विभाग, जिला प्रशासन और राज्य सरकार से हुडा सेक्टर में कम से कम एक कॉलेज बनाए जाने के लिए मांग की गई है। इसी प्रकार से हुडा सेक्टर में मार्केट और कम्युनिटी सेंटर की भी जरूरत है। जिससे कि पटौदी का हूडा सेक्टर जल्द से जल्द पूरी तरह आबाद हो सके । इसी कड़ी में उन्होंने कहा कि जब शिक्षा उपलब्ध होगी तो रोजगार के विकल्प भी उपलब्ध होते रहेंगे ।

शिक्षा पर सभी का अधिकार

उन्होंने कहा प्रत्येक व्यक्ति अपने सामर्थ्य और योग्यता के मुताबिक समाज और राष्ट्रहित में अपनी योग्यता का उपयोग करें । इस मौके पर जिला शिक्षा अधिकारी कैप्टन इंदु बोकन, ने कहा शिक्षा पर सभी का अधिकार है । सरकार के साथ-साथ शिक्षा विभाग का निरंतर प्रयास जारी है की शिक्षा व्यवस्था को सुगम, सरल और सभी तक आसानी से उपलब्ध होने वाली बनाया जाए । इस मौके पर किशन यादव माजरा, मनोज यादव जनौला , पटौदी पालिका के वाइस चेयरमैन जर्मन सैनी, राकेश, धर्मेंद्र, विनय, मोनिका, मंजू , मृदुला सहित स्कूल स्टाफ के साथ-साथ अन्य गणमान्य व्यक्ति भी मौजूद रहे 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap