• Wed. Nov 25th, 2020

Bharat Sarathi

A Complete News Website

95 वर्षाें में आरएसएस बना स्वयं सेवकों का विशाल वृक्ष

Oct 26, 2020
56769 शाखा लगती है और कुल 50 लाख स्वयंसेवक.
आरएसएस ने मनाया विजयदशमी का उत्सव  

फतह सिंह उजाला
पटौदी।
     विजय दशमी के उपलक्ष्य पर पटौदी खण्ड के हेलीमण्डी कस्बे की आरएसस की  शाखा के स्वयंसेवको ने शस्त्र पूजन कर उत्सव मनाया। कार्यक्रम के व्यवस्था प्रमुख ऐडवोकेट सुधीर मुदगिल ने बताया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना डॉक्टर केशव रॉव बलीराव हेडगेवार जी ने 1925 की विजयदशमी के दिन की थीं। इस दिन डॉक्टर साहब ने  कुछ स्वयंसेवको को लेकर शाखा लगानी प्रारम्भ की और हिन्दू समाज को संघठित करने का प्रण लिया।

यह संघ रूपी पौधा 95 वर्ष में लाखों स्वयं सेवकों का एक विशाल वक्त वृक्ष बन गया है।  इन  95 वर्षों की यात्रा में संघ ने देश मे आपातकाल के दौरान व्यवस्था देने का रिकॉर्ड स्थापित किया है। सेवा के क्षेत्र में संघ के माध्यम से देश मे 1 एक लाख अस्सी हजार सेवा कार्य चल रहे है। संघ से 80 अन्य संघठन निकल कर विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रहे है। आज देश मे 56769 शाखा लगती है। कुल 50 लाख स्वयंसेवक है। शाखा के माध्यम से मानव निर्माण का अभियान आज भी जारी है।संघ की व्यवस्था को देख कर ही 1963 में संघ के स्वयंसेवकों की एक टुकड़ी को पंडित जवाहर लाल नेहरू जी ने गणतंत्र दिवस की परेड में आमंत्रित किया था।

इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता सतपाल चैहान पूर्व वरिष्ठ प्रबन्धक सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक ने की। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता लोकेश गुप्ता ने की। उन्होंने बताया कि विजयदशमी शक्ति व पराक्रम का प्रतीक है। इस दिन भगवान श्री राम ने रावण रूपी बुराई को कुचल कर अच्छाई स्थापित की। हमारे उत्सव हमे प्रेरणा देने का काम करते है। इस अवसर पर अनिल भारती, राजेन्द्र गुप्ता , अजित , डॉ प्रवीण, डॉ भारत भूषण , राज सिंह चैहान , नगर कार्यवाह राहुल , अक्षय , गौरव , हतेंद्र , सूरज , विकास , कृष्णा , सिद्धार्थ उपस्थित थे 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap