राव इंद्रजीत के खास समर्थक पूर्व पार्षद के नेतृत्व में किया गया प्रदर्शन

पानी संकट से परेशान होकर पब्लिक हेल्थ ऑफिस पर पहुंचे नागरिक

यही हाल रहा तो विधानसभा चुनाव में भुगतना पड़ेगा भाजपा को खामियाजा

फतह सिंह उजाला 

पटौदी । लगातार तीसरी बार भाजपा की डबल इंजन सरकार पटरी पर दौड़ने लगी है । लेकिन डबल इंजन सरकार के होते हुए केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह के सबसे मजबूत राजनीतिक गढ़ पटौदी मंडी नगर परिषद के पटौदी नगर पालिका इलाके में पानी के संकट को लेकर परेशान लोगों के द्वारा मटके फोड़ कर विरोध प्रदर्शन किया गया । राव इंद्रजीत सिंह के खास समर्थक पूर्व पार्षद योगेंद्र यादव बबली के नेतृत्व में महिलाएं और पुरुष पटौदी पब्लिक हेल्थ ऑफिस में पहुंचे। यहां पर नाराज नागरिकों के द्वारा नारेबाजी करते हुए महंगे भाव के मटके फोड़ कर सरकार और विभाग के अधिकारियों को जगाने का काम किया गया।

केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह के खास समर्थक पूर्व पार्षद योगेंद्र यादव बबली का आरोप है कि सरकार का अफसर शाही पर कोई नियंत्रण ही नहीं है। जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है । उन्होंने कहा बेशक से केंद्र और हरियाणा में भाजपा की डबल इंजन सरकार है । लेकिन अधिकारियों पर किसी प्रकार का नियंत्रण दिखाई नहीं देता । यही हाल रहा तो कुछ ही समय के बाद होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा को खामियाजा भी भुगतना पड़ सकता है । पटौदी पब्लिक हेल्थ ऑफिस पर मटका फोड़ प्रदर्शन करने के लिए पहुंचे लोगों में से महिलाओं का कहना है कि उनको उनकी कालोनी में ही मौजूद नलकूप को आरंभ करके पानी की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। गर्मी के मौसम में रात को 2:00 बजे 3:00 बजे तक पानी की आपूर्ति होती है । ऐसे समय रात भर जागने से स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है । रसोई के दैनिक कामकाज के लिए भी पानी की समस्या का सामना करना पड़ता है। वहीं अन्य लोगों का भी यही कहना है कि समय पर पीने के पानी की आपूर्ति नहीं होने से आसपास के खेतों में लगे हुए ट्यूबवेल से भी जरूरत का पानी लाने के लिए मजबूर हो रहे हैं। कामकाजी लोग जब अपने काम पर चले जाते हैं तो रात के समय परिजन फोन पर कहते हैं कि पानी ही नहीं आ रहा है । पानी की समस्या को लेकर गर्मी के मौसम में सुबह के समय नहाना धोना भी गंभीर समस्या होता जा रहा है । लोगों ने तो यहां तक आरोप लगाया कि पीने का पानी तीन-चार दिन तक कई बार आता ही नहीं है।

पूर्व पार्षद योगेंद्र यादव बबली का कहना है कि ऐसी भी चर्चा सुनी गई थी कि पटौदी से भाजपा के विधायक के द्वारा पब्लिक हेल्थ विभाग और अधिकारियों को क्षेत्र में बंद पड़े नलकूप आरंभ करने के लिए निर्देश दिए गए हैं । लेकिन 10 – 12 दिन बीत जाने के बाद भी नलकूप आरंभ किया जाने को लेकर किसी भी प्रकार की धरातल पर कार्रवाई दिखाई नहीं दे रही है। उन्होंने पानी संकट से परेशान लोगों की मांगों का समर्थन करते हुए कहा है कि पीने के पानी की आपूर्ति और इसका समय सुनिश्चित होना चाहिए ।  इस समस्या को गंभीरता से लेकर समाधान नहीं किया गया, तो सत्ता पक्ष पार्टी के पक्ष में लोगों के बीच में पहुंचना भी एक गंभीर समस्या बन जाएगा।