गुरुग्राम पुलिस ने कॉल सेंटर से 04 लड़कियों सहित कुल 08 साईबर ठगों को किया गिरफ्तार।

आरोपियों के कब्जा से वारदात में प्रयोग किए जा रहे 10 मोबाईल फोन्स व 04 लैपटॉप भी किए बरामद।

गुरुग्राम: 20 जून 2024 – श्री विपिन अहलावत HPS, सहायक पुलिस सोहना , गुरुग्राम के निर्देशानुसार कार्य करते हुए निरीक्षक मनीष कुमार, प्रबंधक थाना साईबर अपराध दक्षिण, गुरूग्राम की पुलिस टीम ने मॉनिटरिंग व तकनीक की सहायता से कल दिनांक 20.06.2024 को पालम विहार, गुरुग्राम से विदेश में नौकरी दिलाने का झांसा देकर लोगों से धोखाधड़ी करते हुए ठगी करने वाले फर्जी/अवैध कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है। पुलिस टीम द्वारा कॉल सेन्टर से 04 लड़कियों सहित कुल 08 आरोपियों को काबू किया, जिनकी पहचान 1. नरेंद्र कुमार निवासी गांव पालम दिल्ली, 2. विक्रांत सिंह निवासी बरा खुर्द जींद, 3. रवि कुमार निवासी रघुवीर एनक्लेव दिल्ली, 4. काजल निवासी अलीगंज कोटला मुबारकपुर दिल्ली, 5. गरिमा निवासी जीयानपुर जिला आजमगढ़ (उत्तर-प्रदेश), 6. एगनेश फ्रानेश निवासी निवासी अनूपपुर (मध्य-प्रदेश), 7. रंजन कुमार निवासी श्याम विहार फेज-2 दिल्ली व 8. साहिल पूनिया निवासी गांव डिक्तानिया गंगानगर (राजस्थान) के रुप मे हुई। पुलिस टीम द्वारा आरोपियों के खिलाफ आगामी कार्यवाही करते हुए थाना साईबर अपराध दक्षिण, गुरुग्राम में धारा 419, 420, 120-B IPC के तहत नियमानुसार अभियोग अंकित करके आरोपियों अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

आरोपियों से पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ कि आरोपी https://Internationaljobsolutions.com के नाम से वेबसाइट बनाकर shine.com से नौकरी की तलाश करने वाले लोगों का डाटा लेकर उनसे कांटेक्ट करके विदेश में नौकरी लगवाने का झांसा देते और उन्हें अपने विश्वास में लेकर उनके साथ धोखाधड़ी व ठगी की वारदात को अंजाम देते। ये नौकरी लगवाने के नाम पर प्रत्येक व्यक्ति से 2 से 3 लाख रुपए की ठगी करते थे। लोगों से ठगी हुई राशि को ये फर्जी बैंक खाते में डलवाते थे। फर्जी बैंक खाते इनका अन्य साथी इनको उपलब्ध करवाता था।

पुलिस पूछताछ में यह भी ज्ञात हुआ कि उपरोक्त आरोपी लगभग 6 महीने से कॉल सेंटर चलाकर ठगी की वारदातों को अंजाम दे रहे थे तथा ठगी करने के लिए इन लोगों को प्रतिमाह 18 हजार रुपए की सैलेरी मिलती थी।

उपरोक्त आरोपियों द्वारा ठगी में प्रयोग किए जा रहे 10 मोबाईल फोन्स व 04 लैपटॉप भी पुलिस टीम द्वारा इनके कब्जा से बरामद किए गए है। आरोपियों को आगामी कार्यवाही के लिए माननीय अदालत के सम्मुख पेश किया जाएगा। अभियोग अनुसन्धानाधीन है।

गुरुग्राम पुलिस बढ़ते साईबर अपराध को रोकने मे तथा आपराधियों को पकड़ने मे पूर्ण निष्ठा से कार्यरत है।