स्नेह चौधरी : राजीव मनचंदा की मां ने परखी प्रतिभा

– कमलेश भारतीय

 प्रसिद्ध रंगकर्मी राजीव मनचंदा की मां कौशल्या मनचंदा ने मेरी प्रतिभा को परखा और जब मात्र दूसरी कक्षा में थी तब उन्होंने मुझे इच्चक दाना , विच्चक दाना गाने पर डांस करने मंच पर भेजा और उस छोटे से आयोजन में प्रथम आइ । 

स्नेहलता चौधरी ने ग्रेजुएशन गवर्नमेंट काॅलेज से की । हिंदी एम ए की कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय से । सुशीला भवन के पास गवर्नमेंट स्कूल में शकुंतला वत्स ने डांस और सिंगिंग में लगातार प्रोत्साहित किया ।

 – काॅलेज में किस किस।में भाग लिया ?

 – काॅलेज में डांस , सिंगिंग और प्लेबैक सिंगिंग में भाग लेती रही ।

 – लोकेश मोहन खट्टर के अभिनय रंगमंच से से कब।से जुडी हैं ?

– आठ साल से ।

 – कौन कौन से नाटक किए ?

– शाही फ्यूनरल जो शिमला के गेयटी थियेटर में किया । इसमें द्वितीय श्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार भी मिला । दूसरा नाटक हाल ही में मुम्बई में मंचित करके आए हैं

– कथा एक कंस की ।

– क्या रोल था ?

– देवकी के रोल में ।

 -कहां जाॅब करती हैं ?- जुगलान के गवर्नमेंट स्कूल में ।

 – हिसार में कहां रहती हैं ?

– तलाकी गेट के पास ।

– आकाशवाणी में भी कार्यक्रम मिले ?

– जी । रोहतक आकाशवाणी केंद्र पर ड्रामा आर्टिस्ट के तौर पर ।

 – फिल्म में भी काम किया ?

– चिरइया ऐ राम में । तुर्रम खां में भी ।

 – प्रिय एक्टर कौन ?

– रेखा और मनोज कुमार । 

-आगे क्या ?

– बस । अभिनय और रंगमंच में पहचान बना सकूं । नये लोगों को प्रोय्साहित कर सकूं ।

 – हिसार में नाटक का कैसा माहौल ?

– बहुत शानदार । लोग जागरुक हो चुके हैं । हमारी शुभकामनाएं । आप इस।मोबाइल नम्बर पर प्रतिक्रिया दे सकते हैं : 9416074372

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *