कॉलेज एडमिशन छात्रों की परेशानी व समस्याओं के चलते गवर्नमैंट कॉलेज के प्रिंसिपल से मिले युवा कांग्रेस व एनएसयूआई के पदाधिकारी

मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री के नाम जिला उपायुक्त को भी ज्ञापन सौंपकर उनकी समस्याओं के समाधान की मांग उठाई

हिसार 10 जुलाई (प्रवीन कुमार): हलका नलवा के युवा कांग्रेस नेता मनोज टाक माही ने आज एडमिशन को लेकर कॉलेजों द्वारा की जा रही मनमानी व छात्रों को हो रही परेशानियों के चलते गवर्नमैंट कॉलेज के प्रिंसिप(प्रवीन कुमार)ल जे.एस. रोहिल्ला से मुलाकात की। इस अवसर पर उनके साथ एनएसयूआई के जिला अध्यक्ष विक्रम सिंघरान, एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव विकास टाक भी मौजूद थे।  वहीं मनोज टाक व एनएसयूआई के पदाधिकारी जिला उपायुक्त से भी मिले और उन्हें मुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री के नाम एक ज्ञापन सौंपकर एडमिशन में छात्रों को आ रही परेशानियों का समाधान करने की मांग भी उठाई। 

मनोज टाक ने प्रिंसिपल को बताया कि छात्रों के साथ कॉलेज प्रशासन द्वारा सहायतापूर्ण व्यवहार नहीं हो रहा और छात्र एडमिशन के लिए धक्के खा रहे हैं। ऑनलाइन एडमिशन का बहाना बनाकर कॉलेज प्रशासन अपनी जिम्मेवारी से पाल झाड़ रहे हैं और छात्र बेहद परेशान हैं और वे एडमिशन के लिए मारे-मारे फिर रहे हैं। ऑनलाइन एडमिशन सॉफ्टवेयर का ट्रायल लिए बिना ही छात्रों से आवेदन मांगे गए। साफ्टवेयर में आ रही दिक्कतों के कारण छात्रों को बहुत परेशानियां हो रही है। सॉफ्टवेयर में बहुत सी खामियां हैं ज्यादा परसेंटेज वाले बच्चे एडमिशन से वंचित रह गए और कम परसेंटेज वालों का दाखिल हो रहा है। उन्होंने प्रिंसिपल के समक्ष गवर्नमैंट कॉलेज में ही 96 प्रतिशत अंक पाने वाली छात्रा का दाखिला नहीं होने का उदाहरण प्रस्तुत किया जो इस मौके पर उनके साथ थी। इसके साथ ही सिर्फ एक कॉलेज की लिस्ट में विद्यार्थियों का नाम डाला जा रहा है जबकि उनसे फीस सभी कॉलेजों के लिए भरवाई गई थी जो छात्रों के साथ सरासर लूट है।  उन्होंने कहा कि जब फीस सभी कॉलेजों की ली गई है तो सभी कॉलेजों में लिस्ट में नाम आना चाहिए या फिर कॉलेज की जो 150 रुपये फीस ली गई है उसे छात्रों को वापिस किया जाए। 

मनोज टाक व एनएयूआई नेताओं ने बताया एडमिशन में हो रही अनियमितता को लेकर छात्र संघ व युवा कांग्रेस के सदस्य पीडि़त छात्रों के साथ है। उन्होंने गवर्नमेंट कॉलेज के प्राचार्य से इस समस्या का जल्द से जल्द समाधान करने के लिए कहा। उन्होंने मांग उठाई कि इस मामले में शिक्षा मंत्री को हस्तक्षेप करके जल्द से जल्द समस्या का समाधान करें और एडमिशन प्रक्रिया में आ रही खामियों को दूर किया जाए। उन्होंने कहा कि युवा कांग्रेस व एनएसयूआई छात्रों के साथ हा रही धक्का शाही को बर्दाश्त नहीं करेगी और इसके लिए वे हर संघर्ष के लिए तैयार हैं।

इस मौके पर अंकित श्योराण चिड़ौद, संदीप काकू, अमित टाक, विष्णु बिश्नोई, नीतू रानी, मोनि, सोनू टोकसिया आदि भी साथ थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *