• Tue. Sep 29th, 2020

Bharat Sarathi

A Complete News Website

पटियाला में कर्फ्यू पास दिखाने को लेकर निहंगों का हमला, इंस्पेक्टर की कलाई कटकर अलग हुई,

गुरुद्वारे से गोलीबारी, कमांडो पहुंचे
थाना इंचार्ज बिक्कर सिंह और एक अन्य पुलिस कर्मी जख्मी
हमला कर गुरुद्वारे में छिप गए
गुरुद्वारा साहिब के अंदर से निहंगों ने चलाई पुलिस पर गोलियां
निहंगों ने स्टाफ के साथ झगड़ा किया, बैरिकेड तोड़कर भागने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने उनकी गाड़ी को घेर लिया

अनूप कुमार सैनी
पटियाला, 12 अप्रैल। पटियाला में सनौर रोड पर बनी बड़ी सब्जी मंडी के बाहर मेन गेट पर 5 निहंग सिंह (निहंग सिख) रविवार सुबह करीब 6 बजे पहुंचे थे। यहां सब्जी मंडी के स्टाफ ने इन लोगों की गाड़ी को रोककर कर्फ्यू पास के बारे में पूछा था ताकि मंडी में बेवजह भीड़ न हो।

पास न होने पर निहंगों ने पुलिस पर हमला कर दिया। हमले में एक एएसआई की कलाई कट कर अलग हो गई जबकि थाना इंचार्ज बिक्कर सिंह और एक अन्य पुलिस वाला जख्मी हो गया। एएसआई की हालत गंभीर होने के कारण उसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया। अन्य घायलों को पटियाला के अस्पताल में भर्ती करवाया गया। पुलिस की नाकाबंदी पर लगा बैरिकेड तोड़ गाड़ी भगाने की कोशिश की।

घटना के बाद निहंग एक गुरुद्वारे में छिप गए। पुलिस पार्टी निहंग हमलावरों को सरेंडर करने के लिए चेतावनी देती रही। एडीजीपी राकेश चंद्र और कमांडो फोर्स भी मौके पर पहुंची। पटियाला जोन के आईजी जतिंदर सिंह मौके पर पहुंचेेे। एडीजीपी खुद कमान संभाले रहे। बाहर भारी पुलिस बल तैनात है।

उन्हें बाहर निकालने के लिए कमांडो, एसएसपी पटियाला मनदीप सिंह सिद्धू के साथ गुरुद्वारेे के अंदर घुसे। निहंगों को सरेंडर करने के लिए कहा जा रहा है। गुरुद्वारे के अंदर से गोलीबारी हो रही है। कमांडो टीम ने मोर्चा संभाल लिया है। उन्होंने भी सरेंडर के लिए चेतावनी दी लेकिन डेरे में बने गुरुद्वारा साहिब के अंदर से निहंग पुलिस को गालियां देते हुए धमकियां देते रहे। इसके बाद कमांडो नेे मोर्चा संभाला।

बताया जा रहा है कि कमांडो ने 7 लोगों को काबू कर लिया हैैै। एक निहंग जख्मी हुआ है। गुरुद्वारे में दो महिलाएं भी मौजूद हैं। इससे पहले कि पुलिस उन्हें गिरफ्तार करती है, दोनों महिलाएं पाठ करने लगी। इस वजह से अभी भी अधिकारी मौके पर ही हैंं ताकि पाठ खत्म होने के बाद इन दोनों महिलाओं को भी गिरफ्तार किया जा सके।

एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू ने जानकारी देते हुए बताया कि एक गाड़ी में 5 निहंग सब्जी मंडी पहुंचे थे। यहां मंडी स्टाफ ने इनकी गाड़ी को रोक कर कर्फ्यू पास के बारे में पूछा था ताकि मंडी में बेवजह भीड़ न हो। पास न होने पर इन लोगों ने सब्जी मंडी के स्टाफ के साथ झगड़ा करते हुए बैरिकेड तोड़ कर भागने की कोशिश की। इसके बाद पुलिस ने निहंगों की गाड़ी को घेर लिया।

जैसे पुलिस ने गाड़ी रोकी, तलवार लिए निहंगों ने पुलिस पर हमला कर दिया। हमले में एक एएसआई की कलाई कट गई। हमलावर निहंग बलबेड़ा क्षेत्र के गुरुद्वारा खिचड़ी साहब के रहने वाले बताए जा रहे हैं। घटना के बाद आरोपी गुरुद्वारे में छिप गए। पुलिस अधिकारी भी पीछा करते हुए गुरुद्वारे पहुंचे। पटियाला जोन के आईजी जतिंदर सिंह भी मौके पर पहुंच गए हैं। उन्होंने सरेंडर के लिए चेतावनी दी लेकिन आरोपी गुरुद्वारे के अंदर से पुलिस को धमकियां दी गई। काफी जद्दोजहद के बाद7आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

घटना दुर्भाग्यपूर्ण, सख्त कार्रवाई होगी-डीजीपी

पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने कहा कि पटियाला की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। एएसआई पीजीआई चंडीगढ़ पहुंच गए हैं। मैंने वहां के निदेशक से बात की। उनकी सर्जरी के लिए पीजीआईएमईआर के शीर्ष प्लास्टिक सर्जन की नियुक्ति की गई है। आरोपी निहंगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई जल्द की जाएगी।

निहंग समुदाय प्रमुख बोले- पुलिस पर हमला करने वाले गुंडे

पटियाला में निहंग समुदाय के प्रमुख 96 करोड़ी बाबा बलबीर सिंह ने कहा, ‘‘इन्होंने (आरोपी निहंगों ने) पहनावा जरूर निहंग सिंह जैसा पहन रखा है, लेकिन हमारा समुदाय ऐसा नहीं है। लोगों और लाचारों की मदद के लिए यह संप्रदाय बना है। जिन्होंने पुलिस पर हमला किया, वे सिर्फ और सिर्फ गुंडे हैं।

पंजाब में 30 अप्रैल तक कर्फ्यू, यहां 150 से ज्यादा संक्रमित

कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए पंजाब सरकार ने 30 अप्रैल तक कर्फ्यू बढ़ा दिया है। राज्य में 23 मार्च से कर्फ्यू लगाया था, जो 14 अप्रैल को खत्म होना था। लेकिन, संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए इसे बढ़ा दिया गया है। राज्य में अब तक 150 से ज्यादा संक्रमित आ चुके हैं जबकि 12 लोगों की संक्रमण के चलते जान जा चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap