मनेठी-कुंड में एम्स की स्थापना सुनिश्चित करने के लिए, खट्टर सरकार से मांग

21 जून 2019, स्वयंसेवी संस्था ग्रामीण भारत के अध्यक्ष वेदप्रकाश विद्रोही ने हरियाणा भाजपा खट्टर सरकार से मांग की कि मनेठी-कुंड में एम्स की स्थापना सुनिश्चित करने के लिए मनेठी-कुंड में प्रदेश सरकार अरावली क्षेत्र से बाहर गैरविवादित 250 एकड़ भूमि अधिग्रहण तत्काल करे।

विद्रोही ने कहा कि सरकार लाख दावे करे, आश्वासन दे पर यह तय है कि अरावली क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली जमीन को किसी भी हालत में एम्स के लिए केन्द्रीय वन एवं पर्यावरण समिति द्वारा अनुमति नही मिलने वाली और वैसे भी एम्स के लिए सरकार ने जो जमीन चिन्हित की है, उसमें छोटे-बड़े 37 हजार पेड़ है जिनकों किसी भी हालत में सुप्रीम कोर्ट काटने की इजाजत नही देगा। ऐसी स्थिति में विद्रोही ने कहा कि यदि मोदी सरकार व हरियाणा भाजपा सरकार मनेठी में एम्स की दी गई स्वीकृति पर ईमानदारी से कायम है और दक्षिणी हरियाणा के साथ कोई छल नही कर रही है तो एक सप्ताह के अंदर-अंदर मनेठी में अरावली क्षेत्र से बाहर की 250 एकड जमीन को अधिग्रहित करने की विशेष अनिवार्यता के तहत अधिसूचना जारी करे ताकि भूमि अधिग्रहण सैक्सन 4 व 6 को बाईपास किया जा सके।

विद्रोही ने कहा कि जमीन अधिग्रहण में किसी भी तरह के विवाद से बचने के लिए हरियाणा सरकार भूमि अधिग्रहण नोटिफिकेशन में यह सुनिश्चित करे कि प्रस्तावित अधिग्रहित जमीन का किसानों को बाजार भाव से चार गुणा ज्यादा मुआवजा सरकार देगी। विद्रोही ने कहा कि यदि हरियाणा सरकार एक सप्ताह में भूमि अधिग्रहण नोटिस जारी नही करती है तो दक्षिणी हरियाणा के लोगों को समझ लेना चाहिए कि मनेठी एम्स के नाम पर भाजपा सरकार लोगों का भावनात्मक शोषण करके वोट बैंक राजनीति के लिए उनके साथ धोखाधडी कर रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *