स्वतंत्रता संग्राम के अमर शहीद राजा नाहर सिंह 162वे बलिदान दिवस पर, श्रद्घांजली

9 जनवरी 2020, हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता वेदप्रकाश विद्रोही ने 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के अमर शहीद राजा नाहर सिंह 162वे बलिदान दिवस पर अपने कार्यालय में उनके चित्र पुष्प अर्पित करके भावभीनी श्रद्घांजली दी।

विद्रोही ने कहा कि 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में वल्लभगढ़ के राजा नाहर सिंह ने वर्तमान हरियाणा के अन्य 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के स्वंतत्रता सेनानी राव तुलाराम, झजजर के नवाब अब्बुदर रहमान, हांसी के हुक्मचंद कानूनगो व मेवात के हसन खां मेवाती की तरह अंग्रेजी हुकुमत के खिलाफ शहशांह बहादुरशाह जफर के नेतृत्व में देश की आजादी की लड़ाई में लडते हुए अपनी कुर्बानी दी, 9 जनवरी 1858 को अंग्रेजी हुकूमत ने राजा नाहर सिंह को खुलेआम फासी देकर इस महान देशभक्त के जीवन को देश से छीन लिया।

विद्रोही ने कहा कि राजा नाहर सिंह का 162 वर्ष पूर्व दिया गया अमर बलिदान देश के इतिहास के स्वर्णिम अक्षरों में व आम आदमी के दिलों में दर्ज है। ऐसे महान स्वतंत्रता सेनानी को यह देश कभी नही भूला सकेगा जिन्होने हमारी आजादी के लिए अपना सबकुछ बलिदान कर दिया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *