इंसानियत हुई शर्मसार, कांग्रेस नेता की मौत के बावजूद विरोध प्रदर्शन करते रहे कांग्रेसी

वरिष्ठ अधिवक्ता खजान सिंह एडवोकेट

 कांग्रेस सुप्रीमो श्रीमती सोनिया गांधी के अत्यंत नजदीकियों में शुमार और हरियाणा कांग्रेस के प्रदेश सचिव व राज्य प्रवक्ता रहे वरिष्ठ अधिवक्ता खजान सिंह एडवोकेट का निधन हो गया लेकिन उनके निधन की सूचना सर्वत्र फैलने के बावजूद एक अजीबो-गरीब नजारा देखने को मिला, जिसमें इंसानियत शर्मसार होती नजर आई।

ध्यान योग्य ये है कि केन्द्र व प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ कांग्रेस पार्टी के ंझंडे तले जिला मुख्यालय पर हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्षा व पूर्व केन्द्रीय मंत्री कुमारी शैलजा की अगुवाई में पार्टी कार्यकर्ताओं को विरोध प्रदर्शन करना था। विरोध प्रदर्शन में पूर्व काबिना मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव और पूर्व राज्यमंत्री सुखबीर सिंह कटारिया भी अपने दलबल समेत पहुंचे लेकिन इसी बीच पता चला कि कांग्रेस सुप्रीमो श्रीमती सोनिया गांधी के अत्यंत नजदीकियों में शुमार और हरियाणा कांग्रेस के प्रदेश सचिव व राज्य प्रवक्ता रहे वरिष्ठ अधिवक्ता खजान सिंह एडवोकेट का निधन हो गया है और उनका शव अंतिम दर्शनों के लिए पूर्व द्रोणाचार्य चौक के साथ बने उनके आवास पर रखा गया है।

कांग्रेस के दिग्गज नेता खजान सिंह एडवोकेट की मौत की सूचना पाकर विरोध प्रदर्शन में शामिल होने गए यूथ इंटक के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चौधरी रोहताश बेदी विरोध प्रदर्शन में शामिल होने की बजाय समर्थकों सहित कांग्रेस नेता खजान सिंह के आवास पर पहुंच गए और उन्हे अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इसी बीच पूर्व केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री चौधरी जयप्रकाश उर्फ जेपी, सोहना में रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राव धर्मपाल, सुशील भारद्वाज, कुलराज कटारिया, ओमप्रकाश पांचाल, विपिन खन्ना, सुधीर शर्मा, कांग्रेस नेता मनोज भारद्वाज, कांग्रेस नेता मुकेश शर्मा एडवोकेट समेत अनेकों नेता अपने समर्थकों के साथ दुख की इस घड़ी में खजान सिंह परिवार को सांत्वना देने और अपनी श्रद्धाजलि अर्पित करने उनके आवास पर नजर आए लेकिन ताज्जुब की बात ये है कि 40 वर्षों से ज्यादा समय तक कांग्रेस के प्रति पूरी तरह समर्पित और निष्ठावान रहे तथा कांग्रेस सुप्रीमो श्रीमती सोनिया गांधी के अत्यंत नजदीकियों में शुमार और हरियाणा कांग्रेस के प्रदेश सचिव व राज्य प्रवक्ता रहे वरिष्ठ अधिवक्ता खजान सिंह एडवोकेट के निधन पर विरोध प्रदर्शन में शामिल होने आए कांग्रेस नेता विरोध प्रदर्शन को स्थगित करने की बजाय कमान सराय से सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए लघु सचिवालय तो पहुंच गए लेकिन मात्र 100 मीटर दूर स्वर्गीय खजान सिंह के आवास पर उन्हे श्रद्धांजलि देने नही पहुंच पाए।

जिससे इंसानियत शर्मसार होती नजर आई। देखने वाली बात ये रही कि जिस वक्त दिवंगत खजान सिंह एडवोकेट को स्वर्गधाम ले जाया गया और मुखाग्नि दे दी गई, उसके बाद हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्षा व पूर्व केन्द्रीय मंत्री कुमारी शैलजा, पूर्व काबिना मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव और पूर्व राज्यमंत्री सुखबीर सिंह कटारिया व अन्य कांग्रेस नेता स्वर्गधाम में पहुंचे जबकि हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष चौधरी भूपेन्द्र सिंह हुडडा चौधरी खजान सिंह एडवोकेट के निधन की सूचना पाकर दिल्ली से सीधे स्वर्गधाम पहुंच गए और जैसे ही खजान सिंह एडवोकेट की शवयात्रा स्वर्गधाम में आई, उन्होने दिवंगत आत्मा को पुष्प अर्पित कर अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की और पार्टी को दिए गए योगदान को याद करते हुए कहा कि चाहे खजान सिंह आज हमारे बीच नही रहे लेकिन उनकी यादें सदैव उनके मन-मस्तिष्क पर छाई रहेगी। चौधरी खजान सिंह एक बहुत ही स्पष्ट, जुबान के धनी और ईमानदार जनसेवक रहे। वह ताउम्र कांग्रेस के प्रति पूरी तरह समर्पित और निष्ठावान रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *