सरदार पटेल जयंती पर गुरुग्राम में हुआ रन फॉर यूनिटी दौड़ का आयोजन

– मुख्य अतिथि उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने युवाओं को सरदार पटेल के जीवन से प्रेरणा लेकर देश को एकजुट रखने और विकास में योगदान देने का किया आह्वान

– …स्टेज हो या न हो, बच्चों के लिए कारपेट जरूर होने चाहिए – डिप्टी सीएम

गुरुग्राम/चंडीगढ़, 31 अक्टूबर। स्वतंत्र भारत के पहले उप-प्रधानमंत्री एवं गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की 144 वीं जयंती पर गुरुग्राम के ताऊ देवीलाल खेल स्टेडियम में रन फॉर यूनिटी दौड़ का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने भाग लिया।

युवाओं पर फोकस  करते हुए अपने संबोधन में  दुष्यंत चौटाला ने कहा कि देश के पहले उप प्रधानमंत्री एवं गृहमंत्री लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल ने देश की छोटी-बड़ी रियासतों का भारत में विलय कर राष्ट्रीय एकता व अखंड भारत का सपना पूरा किया। अब युवाओं का कर्तव्य बनता है कि वे सरदार पटेल जैसी महानविभूति से प्रेरणा लेते हुए देश की एकता व अखंडता के लिए स्वयं को समर्पित करें और राष्ट्र के विकास में योगदान दें।

उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि देश व समाज की उन्नति के लिए नई सोच के साथ आगे बढने की जरूरत है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, सरदार वल्लभ भाई पटेल व पूर्व उप-प्रधानमंत्री स्व. देवीलाल सरीखे महापुरुषों ने राष्ट्रीय एकता एवं शांति का संदेश विश्व को दिया। उन्होंने कहा कि युवा देश का भविष्य हैं, उन्हें प्रेरणा लेकर आगे बढ़ना है कि वे पूरा जीवन देश की तरक्की व एकता के लिए समर्पित करेंगे।

उन्होंने कहा कि रन फॉर यूनिटी कार्यक्रम का हिस्सा बनकर सभी को गर्व महसूस हो रहा है कि सुबह-सुबह सभी युवा साथी, जो विभिन्न स्कूलों व खेल नर्सरियों से देश की एकता एवं अखंडता के लिए एकजुट हुए हैं, वे लोगों को एकता का संदेश व आगे बढऩे की प्रेरणा देने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज जो युवा पढ़ाई कर रहा है या फिर खेल से जुड़ा हुआ है,उसे देश की तरक्की में योगदान देने के लिए स्वयं को तैयार करना होगा। इस रन फॉर यूनिटी से पूरे जिले व प्रदेश में संदेश जाएगा कि हर व्यक्ति को राष्ट्रीय एकता की भावना के साथ देश की तरक्की में अपना महत्वपूर्ण योगदान देना चाहिए। इसके बाद उन्होंने रन फॉर यूनिटी दौड़ को झंडी दिखाकर रवाना किया। यह दौड़ सेक्टर 38 के ताऊ देवीलाल स्टेडियम से शुरू होकर मेदांता द मेडिसिटी केसामने से होते हुए  बखतावार चौक से वापस स्टेडियम में संपन्न हुई।

इससे पहले उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने ताऊ देवीलाल स्टेडियम परिसर में स्थापित पूर्व उपप्रधानमंत्री स्व. देवीलाल की प्रतिमा पर पुष्पमाला अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। कार्यक्रम में पहुंचने पर अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा ने उन्हें पुष्प गुछ भेंटकर उनका स्वागत किया। इस अवसर पर गुडग़ांव के विधायक सुधीर सिंगला, पटौदी से विधायक सत्यप्रकाश जरावता, सोहना से विधायक संजय सिंह, बादशाहपुर से विधायक राकेश दौलताबाद, गुरुग्राम मंडल के आयुक्त अशोक सांगवान, उपायुक्त अमित खत्री, नगर निगम के एडीशनल म्युनिसिपल कमिश्नर वाईएस गुप्ता, एसडीएम जितेंद्र कुमार, नगराधीश मनीषा शर्मा, जेजेपी नेता रोहताश खटाना, प्रवक्ता दलबीर धनखड़, नरेश सहरावत, सूबे सिंह बोहरा सहित शहर के कई गण मान्यव्यक्ति उपस्थित थे।

– …स्टेज चाहे न हो पर बच्चों के लिए मैट जरूर होने चाहिए – डिप्टी सीएम

ताऊ देवीलाल स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कार्यक्रम के बच्चों के बैठने के लिए कारपेट न होने को लेकर अपनी संजीदगी व्यक्त की। उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों की ओर मुखातिब होते हुए कहा कि वीआईपी जी के  लिए स्टेज हो या न हो, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता परन्तु बच्चों के लिए कारपेट जरूर होने चाहिए। डिप्टी सीएम के यह बात मौजूद बच्चों के दिल को छू गई और उपस्थितजनों ने तालियां बजाकर, उनके निर्देश का समर्थन किया। दरअसल रन फॉर यूनिटी में भाग लेने आए प्रतिभागियों के लिए कार्यक्रम स्थल पर मैट नहीं थे, यह व्यवस्था डिप्टी सीएम की नजरों में चढ़ गई और उन्होंने अपने भाषण के दौरान इसका जिक्र कर अधिकारियों को सचेत कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *