• Tue. Dec 7th, 2021

Bharat Sarathi

A Complete News Website

हरियाणा के दूरदर्शन व आकाशवाणी केंद्र

-कमलेश भारतीय

हरियाणा के दूरदर्शन व आकाशवाणी केंद्र पर बात करने की इच्छा हुई है । हरिराणा में सबसे पुराना आकाशवाणी केंद्र रोहतक है जहां से सभी साहित्यकारों को रिकार्डिंग का मौका मिला । मुझे भी और वह भी तब जब मैं हरियाणा में रहता भी नहीं था । तब तो मैं चंडीगढ़ में दैनिक ट्रिब्यून में उपसंपादक था और अवतार पाराशर हर तीन माह बाद मुझे बुलाया करते रिकार्डिंग के लिए । फिर श्रीवर्धन कपिल यानी आवाज़ के जादूगर निर्देशक बने और मैं भी हरियाणा के हिसार से दैनिक ट्रिब्यून में रिपोर्टर बन कर आया तब मेरी कहानियों के नाट्य रूपांतरण प्रस्तुत करवाये श्रीवर्धन कपिल ने । यह मेरे लिए नया अनुभव था । वैसे मैं आकाशवाणी, जालंधर तब से जा रहा हूं जब से बी ए प्रथम वर्ष में था ।

खैर, आकाशवाणी का हिसार में केंद्र बना और अवतार पाराशर भी हिसार आ गये । यही नहीं वरिष्ठ अधिकारी व शानदार आवाज़ व शुद्ध उच्चारण की शिक्षा देने वाले विनोद मेहता भी यहीं थे और राकेश पाहवा व रूप चांदनी खुराना भी । इनके निर्देशन मे ही रोहित सरदाना आकाशवाणी, हिसार से उठकर आजतक पर पहुंचा था । इन्होंने मेरी बेटी रश्मि को आकाशवाणी उद्घोषिका बनने में बहुत योगदान दिया और वह यहां तीन साल काम कर पाई । उसका चयन भी श्रीवर्धन कपिल ने किया था ।आजकल पवन कुमार हिसार आकाशवाणी केंद्र का कार्यभार संभाल रहे हैं और आकाशवाणी को सामाजिक कार्यों से जैसे पौधारोपण व स्वच्छता से भी जोड़ रहे हैं , वह सराहनीय है । आकाशवाणी परिसर में हरियाली बढ़ी है । कुरुक्षेत्र के आकाशवाणी केंद्र से सीधे प्रसारण का अवसर तो नहीं मिला लेकिन अशोक ने मेरे विचार वीडियो पर मंगवाये और प्रसारित किये पिछले नववर्ष के अवसर पर । इस तरह हरियाणा के तीनों आकाशवाणी केंद्रों से जुड़ने का मेरा सौभाग्य रहा ।

आकाशवाणी केंद्र से शुद्ध उच्चारण, कम शब्दों में बड़ी बात कहना और राज्य की संस्कृति से जुड़ने का सौभाग्य प्राप्त हुआ । आकाशवाणी केंद्र आज भी बड़े प्रासंगिक हैं और इनके कार्यक्रम बड़े चाव से सुने जाते हैं । खासकर हैलो हिसार और किसानों के लिए फोन इन कार्यक्रम । कृषि प्रधान राज्य हरियाणा के लिए यह कार्यक्रम घर बैठे किसानों के लिए वरदान से कम नहीं । हैलो हिसार को तो विदेशों में भी सुनते हैं और मज़ेदार बात कि रेडियो श्रोता संघ भी बना हुआ है और हर बार समारोह आयोजित कर श्रोताओं को सम्मानित भी करते हैं । यह श्रोता संघ आकाशवाणी की संजीवनी का काम कर रहा है ।

अब बात करते हैं हरियाणा के एकमात्र दूरदर्शन केंद्र की जो हिसार के सेक्टर तेरह में स्थित है । इस केंद्र की शुरूआत हरियाणा दिवस पहली नवम्बर को हरियाणा की ही बेटी व तब सूचना व प्रसारण मंत्री सुषमा स्वराज ने की थी । उन्होंने पहले दिन से ही हरियाणा समाचार शुरू करवाये जो बुलेटिन लगातार चल रहा है और समाचार संपादक पंकज शर्मा आजकल इसे देख रहे हैं । एक समय अजीत सिंह समाचार संपादक थे । उन्होंने भी समाचार बुलेटिन को काफी संवारा निखारा । यहां भी मेरी बेटी रश्मि को तीन साल समाचार कक्ष में काम करने का मौका मिला और वाॅयस ओवर करना भी सीखा । यही न्यूज एंकर्ज हैं शम्मी नागपाल , कामिनी मलिक , मंजु संधू , विनीत ,रश्मि राजन् कभी श्याम वाशिष्ठ व आशुतोष मिश्रा भी न्यूज एंकर होते थे । दूरदर्शन के सबसे पहले निदेशक एस एस रहमान ने काफी योगदान दिया इसे संवारने और निखारने में । नये नये कार्यक्रम शुरू करवाये और नये नये कलाकारों को अवसर प्रदान किया । यहां तक कि नाटक तक यहीं बनाये जाने लगे थे ।

इस केंद्र का भी सबसे बड़ा योगदान यह है कि कृषि कार्यक्रम किसानों की हेल्प लाइन जैसा है । इसके अतिरिक्त सांस्कृतिक कलाकारों को मौका मिलता है पर और श्रेष्ठ बनाने की जरूरत है । कवि गोष्ठियों और विचार गोष्ठियों को भी तैयार किया जाता है इसका समय भी बढ़ाया गया है लेकिन स्टाफ की कमी कार्यक्रमों को प्रभावित कर रही है । मुझे भी अनेक कार्यक्रम करने का अवसर मिला और मिलता रहता है । इन दिनों एक संगीतकार डाॅ राजकुमार नाहर इस केंद्र को संभाल रहे हैं तो कलाकार अच्छे कार्यक्रमों की उम्मीद कर सकते हैं । रजत शर्मा विष्णु प्रभाकर पर दस्तावेजी फिल्म बना रहे हैं । इससे पहले स्वतंत्रता सेनानी चौ रणबीर सिंह हुड्डा पर दस्तावेजी फिल्म बनी जो कई बार नेशनल डक डी पर भी दिखाई गयी । इस तरह हरियाणा के दूरदर्शन व आकाशवाणी केंद्रों का बड़ा योगदान है ।
-पूर्व उपाध्यक्ष हरियाणा ग्रंथ अकादमी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap