• Wed. Mar 22nd, 2023

Bharat Sarathi

A Complete News Website

सपना का सपना बस एक क्रेटा ?

-कमलेश भारतीय

सपने हर किसी के होते हैं और सब सपनों की दुनिया में जीते हैं । अपने हरियाणा की सपना चौधरी का कभी सपना था कि अच्छी डांसर बन कर परिवार का सहारा बन जाऊं और यह सपना पूरा किया । इतनी शानदार डांसर कहिये कि परफाॅर्मर बनी कि बिग बाॅस तक पहुंची और इंडिया टूडे के देश के बीस अनोखे कलाकारों में भी आई । कितना कुछ पा लिया सपना ने । शायद उम्मीद से कई गुणा , सिर्फ दुगुना ही नहीं , कई गुणा । हरियाणा की और परफाॅर्मर सपना से ईर्ष्या करने लगीं । क्या कभी सपना जैसी बन पायेंगीं ? शायद निकट भविष्य में नहीं !

सपना पर एक बार ऐसा केस दर्ज हुआ कि उसने सुसाइड करने की कोशिश की । रोहतक के पीजीआई में दाखिल करवाया गया , बच गयी और केस भी हिम्मत से लड़ी !

ऐसा समय भी आया जब राजनीति में कांग्रेस और भाजपा दोनों सपना को अपने दल में लाने के सपने देखने लगीं । कभी प्रियंका गांधी के साथ फोटो तो कभी मनोज तिवारी के साथ । आखिरकार भाजपा में जाकर सपना का सपना पूरा हुआ लेकिन टिकट न कांग्रेस ने दी और ही भाजपा ने ! सिर्फ प्रचारक की भूमिका मिली । ऊपर से आरएसएस नाराज अलग कि ये किन लोगों को भर्ती किये जा रहे हो ?

अब सपना का एक और सपना सामने आया है कि उसे एक क्रेटा कार चाहिए । खबरों की मानें तो वह भी मुफ्त ! अपनी भाभी से चाहिए क्रेटा कार ! जैसा कि भाभी ने पुलिस को शिकायत की है । शिकायत में दहेज प्रताड़ना का मामला है । बेटी को जन्म देने के बाद छूछक में और चाहे कितना भी सोना चांदी दिया हो लेकिन भाभी का कहना है कि छूछक में क्रेटा कार मांगने के इतने उतावले हुए सपना के परिवारवाले कि मारपीट तक करने लगे । आखिरकार भाभी ने केस दर्ज करवा देने में ही भलाई समझी । इस तरह सपना या सपना के परिवार का सपना या आरोप सामने आ गया ! अब हो सकता है यह भी आम दहेज के केस जैसा हो जिसमें छुटकारा पाने के लिए ऐसा आरोप लगा दिया हो या फिर सच में ही कार मांगी जा रही हो ! कौन कह सकता है !

वैसे सपना के पास कमी क्या है ? वह खुद जितनी चाहे नये नये ब्रांड की कारें खरीद सकती है । फिर यह क्यों किया ? एक अच्छी ननद नहीं बनी ? नारी ही नारी की दुश्मन ? वही पुरानी बात ? नारी हो तो दूसरी नारी का भी सम्मान करो सपना ! वह भी कोई सपना लेकर अपनी ससुराल आई है । फिर बेटी हो गयी तो क्या ? बेटी का सम्मान करो ! क्रेटा कार के पीछे क्या उसकी जान ले लोगे ? सोचो ! सपना कितना नाम है और यह कलंक क्यों ?

मेरा एक सपना है कि देखूं तुझे क्रेटा में भाई ? यह सपना बहुत गलत है और जल्द भाभी को मना लो !
-पूर्व उपाध्यक्ष, हरियाणा ग्रंथ अकादमी ।

  • Facebook
  • Twitter
  • LinkedIn
  • More Networks
Copy link
Powered by Social Snap