• Fri. Mar 5th, 2021

Bharat Sarathi

A Complete News Website

शाबाश गुरूग्राम पुलिस…एक-एक लाख के इनामी सहित 3 कुख्यात बदमाश दबोचे

05 पिस्टल, 04 देशी कट्टा, 36 कारतूस व अन्य सामान बरामद.
अशोक राठी की हत्या का बदला लेने के लिए की थी हत्या.
इस मामले में कुल 07 आरोपियों को किया जा चुका है काबू

फतह सिंह उजाला

गुरूग्राम।  गाँव अलीपुर के सरपंच मनोज की गोली मारकर हत्या करने के मामले में वान्छित एक-एक लाख रुपए के 02 ईनामी व 01 अन्य साथी सहित कुल 03 कुख्यात बदमाशों को अपराध शाखा सैक्टर-40, अपराध शाखा सैक्टर-39 व अपराध शाखा सैक्टर-17, गुरुग्राम की पुलिस ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए किया काबू किया है। आरोपियों के कब्जा से कुल 05 पिस्टल, 04 देशी कट्टा, 36 जिन्दा कारतूस, 02 मोबाईल फोन व 01 डोंगल पुलिस टीम द्वारा बरामद किए गए है। अपने साथी अशोक राठी की हत्या का बदला लेने की नीयत से आरोपियों ने अपने साथियों के कहने पर ही गोली मारकर हत्या की वारदात को अन्जाम दिया था।

एसीपी क्राइम ग्ररूगाम प्रीतपाल सिंह ने तानकारी देते बताया कि इसी मामले में 05 हजार के ईनामी बदमाश सहित कुल 04 आरोपियों गिरफ्तार किया जा चुका है, जिनके कब्जा से वारदात में प्रयोग की गई 01 पिस्तौल व 03 जिन्दा कारतूस भी किए गए थे बरामद। अब तक इस मामले में कुल 07 आरोपियों काबू को किया जा चुका है। बीते वर्ष 15 जुलाई को थाना शहर सोहना में एक सूचना कृष्ण अस्पताल के सामने किसी अज्ञात व्यक्तियों द्वारा गोली मारने की वारदात को अंजाम दिए जाने के संबंध में प्राप्त हुई थी।

पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुँच गई जहां पता चला कि गोली लगने वाला व्यक्ति मनोज कुमार पुत्र जुगल किशोर मौजूदा सरपंच गाँव अलीपुर है। पुलिस ने घायल को ईलाज के लिए मेदंता हस्पताल, गुरुग्राम दाखिल करा दिया। कुछ ही देर में पीड़ित घायल के भाई ने बताया कि मनोज कुमार अपनी बेटी को दवाई दिलाने के लिए कृष्णा हस्पताल सोहना गाड़ी में सवार होकर गया था। गाड़ी में इसका भाई व उसकी बेटी ही थे।  उसके दूसरे भाई धनराज का फोन आया कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने भाई मनोज को गोली मार दी , भाई मनोज पर जान से मारने की नियत से फायर किए। यह सूचना पाकर यह मेदंता हस्पताल पहुँचा जहां पर इसका भाई दाखिल है और डॉक्टर ने ईलाज के लिए भर्ती किया हुआ है।

मामले में कार्यवाही करते हुए 16 जनवरी को उप-निरीक्षक गुनपाल, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-40, उप-निरीक्षक राजकुमार, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-39 व निरीक्षक नरेन्द्र चैहान, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-17, गुरुग्राम की पुलिस टीमों ने अपनी समझबूझ से उपरोक्त अभियोग की वारदात को अंजाम देने में शामिल रहे 03 कुख्यात बदमाशों को अलग-अलग स्थानों से काबू करने में बङी सफलता हासिल की है । इनकी पहचान भारत पुत्र संजय निवासी गाँव टूमोला, थाना कोशीकलां, जिला मथुरा, उत्तर-प्रदेश, 20 वर्ष।’ (इस आरोपी को अपराध शाखा सैक्टर-40, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने गाँव वजीरपुर नजदीक ज्ञडच् फ्लाईओवर से काबू किया गया, मोहित पुत्र बीरसिंह निवासी  श्याम कॉलोनी, रामबाग, बल्लभगढ,जिला फरीदाबाद, उम्र-27 वर्ष, पुनीत पुत्र धनराज निवासी हाजीपुर पातली, थाना फरुखनगर, जिला गुरग्राम, उम्र 24 वर्ष के रूप में की गई।

पूछताछ में ज्ञात हुआ कि ये सभी अशोक राठी गिरोह के सदस्य है और इन्हें शक था कि  मृतक मनोज सरपंच ने इसके साथी अशोक राठी की हत्या करवाई है, जिसका बदला लेने के लिए अपने उपरोक्त साथी पुष्कर व अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर  वारदात को अन्जाम दिया था। आरोपी भारत  नें मृतक मनोज सरपंच को गोली मारी थी और ये सभी घटनास्थल पर मौजूद थे और मुस्तैद थे कि यदि मनोज सरपंच (मृतक) दाएं-बाएं भागता है तो ये उसे गोली मारकर उसकी हत्या कर देगा, किन्तु आरोपी भारत द्वारा मारी गई गोली से ही  मृतक मनोज सरपंच वही गिर गया और ये वहां से भाग गए। पुष्कर के कहने पर  अपने साथी भारत, मोहित  व अन्य साथियों के साथ मिलकर डिघल में एक व्यक्ति की हत्या करनी थी। फरिदाबाद में एक व्यक्ति की हत्या करनी थी। गाँव सौन्धी में एक व्यक्ति बकी हत्या करनी थी। अलीपुर गांव में एक व्यक्ति की हत्या करनी थी। गांव पातली में भी ये लोग 3 व्यक्तियों की हत्या को अन्जाम देने की फिराक में थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap