नव निर्मित संसद भवन को राष्ट्र को समर्पित करने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद – मनोहर लाल

नए संसद भवन में मिलेगी विकास व विरासत की सांझी झलक – मुख्यमंत्री

चंडीगढ़ 28 मई – हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि राष्ट्र को समर्पित नया संसद भवन हमारी संस्कृति, प्राचीन विरासत एवं आधुनिक आकांक्षाओं का अद्भुत संगम है। नए भवन में ऊर्जा संरक्षण, जल संरक्षण, ग्रीन टेक्नोलॉजी, पर्यावरण अनुकूलता की विशिष्टता का समागम है। आत्मनिर्भर भारत के प्रतीक इस भवन के निर्माण में भारत के हर भाग ने अपनी भागीदारी निभाई है, जिससे विकास व विरासत की सांझी झलक देखने को मिलेगी।        

श्री मनोहर लाल ने नव निर्मित संसद भवन को राष्ट्र को समर्पित करने पर देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद करते हुए देशवासियों को शुभकामनाएं दी और कहा कि नया संसद भवन प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत आगे बढ़ने के साथ- साथ सशक्त व मजबूत बनाएगा और भारत को दुनिया में एक नई पहचान दिलाएगा।

नये भवन में लोकसभा कक्ष राष्ट्रीय पक्षी मोर व राज्यसभा कक्ष राष्ट्रीय पुष्प कमल से है प्रेरित

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह भवन एक भारत- श्रेष्ठ भारत की अवधारणा को चरितार्थ करेगा। नई संसद भवन का नया विराट लोकसभा कक्ष राष्ट्रीय पक्षी मोर से प्रेरित है। वहीं इसका आकार मौजूदा लोकसभा से लगभग दो गुना बड़ा है। इसी प्रकार, नया राज्य सभा कक्ष राष्ट्रीय पुष्प कमल से प्रेरित है, जिसका आकर भी मौजूदा राज्यसभा से लगभग डेढ़ गुना बढ़ा है।

वास्तुशिल्प कला व संस्कृति का अद्भुत उदाहरण है नया संसद भवन

मुख्यमंत्री ने कहा की नया संसद भवन वास्तुशिल्प कला व संस्कृति का अद्भुत उदाहरण है। इसमें संपूर्ण भारत की उत्कृष्ट सांस्कृतिक विरासत के दर्शन होंगे। नवनिर्मित नए संसद भवन में प्रत्येक भारतीय को अपने-अपने राज्यों की संस्कृति की झलक भी देखने को मिलेगी।

आजादी के अमृत काल में संपूर्ण राष्ट्र आज इस महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक पल का साक्षी       

 उन्होंने कहा कि नये संसद भवन का उद्घाटन आजादी के अमृत काल में हुआ है और संपूर्ण राष्ट्र आज इस महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक पल का साक्षी बन रहा है। लोकतंत्र हमारी बहुमूल्य धरोहर है।

नये संसद भवन बनाने वाले श्रमवीरों को बधाई, अढाई वर्ष से कम समय मे बनाकर किया तैयार       

 श्री मनोहर लाल ने कहा कि नए संसद भवन की संरचना लगभग 59 हजार श्रमवीरों के योगदान से तैयार हुई है। यह सभी श्रमवीर बहुत ही बधाई के पात्र हैं। जिनकी कड़ी मेहनत से यह भवन अढाई वर्ष से पहले ही बनकर तैयार हुआ है।

संसद में स्थापित सेंगोल न्यायपूर्ण और निष्पक्ष शासन के अटूट संकल्प का करवाता है स्मरण      

  उन्होंने कहा कि संसद भवन में स्थापित सेंगोल सभी के लिए भारत सरकार के न्यायपूर्ण और निष्पक्ष शासन के अटूट संकल्प का स्मरण करवाता है। देश की विविधता संसद भवन में समाहित है।

नये संसद भवन में जनता के स्वागत के लिए विशाल दर्शक दीर्घा        

नये संसद भवन में जनता के स्वागत के लिए विशाल दर्शक दीर्घा है। अत्याधुनिक डिजिटल उपकरण दोनों सदनों की सुविधाओं को नया आयाम देते हैं। सदन की कार्यवाही को विभिन्न भाषाओं में सुना व पढ़ा जा सकता है। नए संसद भवन में सदस्यों के लिए बायोमेट्रिक की सुविधा उपलब्ध है और इसी प्रकार वोटिंग के परिणाम व सदन की कार्यवाही  के प्रसारण के लिए विशाल मल्टीमीडिया डिस्प्ले है।

यह स्मार्ट भवन पूरी तरह से पेपरलेस       

 नए संसद भवन में ऑटोमेटिक कैमरा कंट्रोल और कमांड सेंटर का भी निर्माण किया गया है और सबसे बड़ी बात यह है यह स्मार्ट भवन पूरी तरह से पेपरलेस है। इस भवन के सेंटर में संविधान कक्ष बना है और साथ ही यही पर भारत के संविधान की डिजिटल प्रति रूपी भी रखी गई है। नए संसद भवन में सदस्यों के लिए निर्मित कक्ष, पुस्तकालय, भोजन कक्ष आदि की सुविधा भी है

भारत की प्राचीन कलाओं का अद्भुत एकीकरण है नया संसद भवन       

 नये संसद भवन में भारत की प्राचीन कलाओं का अद्भुत एकीकरण भी है और नया संसद भवन आत्मनिर्भर भारत का गवाह है। सुरक्षा की दृष्टि से सुरक्षा व सुविधाओं के लिए स्मार्ट फीचर व स्मार्ट ऐक्सेस की व्यवस्था है।

error: Content is protected !!
  • Facebook
  • Twitter
  • LinkedIn
  • More Networks
Copy link
Powered by Social Snap