• Sun. Jan 17th, 2021

Bharat Sarathi

A Complete News Website

माता शब्द के उच्चारण में पूरी कायनात समाई हुई: जरावता

गाय माता की सेवा में किसी प्रकार कमी नहीं रहनी चाहिये.
अपने नीजी को कोष से एक लाख रुपए देने की घोषणा,
चार दिवसीय 113वां सम्मान एवं रागनी समारोह आरम्भ

फतह सिंह उजाला

पटौदी। दक्षिण हरियाणा की सबसे बड़ी गौशाला फर्रुखनगर प्रांगण में सोमवार को पटौदी विधायक एडवोकेट सत्यप्रकाश जरावता ने भगवान श्री राधाकृष्ण के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित करके चार दिवसीय 113वां सम्मान समारोह का शुभारम्भ किया। उन्होंने गौवंश की सेवार्थ अपने नीजी को कोष से एक लाख रुपए की राशि दान स्वरुप भेट करके गऊमाता का अर्शिवाद प्राप्त किया। गौशाला प्रबंधन कमेटी ने विधायक का पगडी बांधकर व प्रतीक चिंह देकर सम्मान किया।

इस मौके पर विधायक सत्यप्रकाश जरावता ने हिंदू धर्म में गाय को माता का स्थान दिया गया है। मां शब्द में पूरी कायनात समाई हुई है। गाय की सेवा से बड़ा कोई धर्म नहीं है। हम सभी की नैतिक जिम्मेवारी बनती है कि गाय माता की सेवा में किसी प्रकार कमी नहीं रहनी चाहिए। उन्होंने कहा कि फर्रुखनगर, मानेसर, रामपुरा, कासन सहित पांच गौशालाओं में सरकार की नई नीतियों के अनुरुप गौहितार्थ कार्य हो इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर को ग्राट देने के लिए फाईल लगाई हुई है।

फर्रुखनगर गौशाला में गायों के लिए शेड बनाने के लिए गौशाला प्रबंधन कमेटी अनुमानित बजट तैयार करके दे ताकि सीएम सहाब से उसकों स्वीकृत कराया जा सके। नंदी शाला बनाने के लिए भी उन्होंने मुख्यमंत्री को फाईल दी हुई है। उन्होंने कहा कि फर्रुखनगर को उप मंडल बनाने का वह वायदा तो नहीं करते लेकिन इस इलाके का हक बनता है । इसलिए सरकार से फर्रुखनगर को उप मंडल बनाने में पूरी पैरवी करेंगे । ताकि इलाके को उसका सम्मान मिल सके। जरावता कभी वायदा नहीं करता बल्कि कार्य करने में विश्वास रखता है। मानेसर नगर निगम उसी कार्यशैली का परिणाम है।

गौ भक्तों के मनोरंजन के रागनी कम्पीटीशन और भंडारे का आयोजन भी किया गया। इस मौके पर श्री गौशाला प्रबंधन कमेटी के प्रधान विक्रम सिंह, प्रबंधक महीपाल चैहान, गौशाला आयोग के सदस्य कूकू धनखड, श्री महंत बाबा निर्माणपुरी, पूर्व चेयरमैन श्रीपाल चैहान जाटौली, चैधरी बलबीर सिंह सहरावत, मुबारिकपुर, डा. राम कंवार मुंडाखेडा, बिजेंद्र सिंह गुलिया पेलपा, लम्बरदार जगदीश लगरपुर, पूर्व प्रधान भरत सिंह, मलखान सिंह, छत्तर सिंह पोसवाल, राजकुमार शर्मा, वेद प्रकाश शर्मा खैंटावास, पूर्व सरपंच तोताराम शर्मा, श्रीपाल कारौला, पूर्व सरपंच राज सिंह डूमा, राम कंवार यादव, डा. कर्ण सिंह, ओमपाल चैहान जाटौली, सुभाष चंद, बिश्म्बर दयाल थानेदार आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap