• Thu. Dec 8th, 2022

Bharat Sarathi

A Complete News Website

-हरियाणा इलेक्ट्रोपैथी काउंसिल द्वारा आयोजित अभिनन्दन समारोह में कही यह बात
-विधानसभा में इस मुद्दे को उठाने पर काउंसिल ने किया धन्यवाद

गुरुग्राम। कादीपुर स्थित पूर्वांचल भवन में हरियाणा इलेक्ट्रोपैथी काउंसिल द्वारा विधायक सुधीर सिंगला का अभिनन्दन समारोह आयोजित किया गया। काउंसिल के डाक्टरों ने इलेक्ट्रोपैथी के हक में हरियाणा विधानसभा में आवाज उठाने पर विधायक का धन्यवाद और आभार व्यक्त किया।

विधायक सुधीर सिंगला ने इस अवसर पर इलेक्ट्रोपैथी काउंसिल के तत्वावधान में इस पद्धति पर आधारित एक पुस्तक का विमोचन भी किया गया है। यह पुस्तक सभी के विचारों और इलैक्ट्रोपैथी के लाभों का प्रचार-प्रसार करेगी। अपने संबोधन में विधायक ने कहा कि हर नई तकनीक को अपनाने में समय लगता है। समय के साथ पद्धति के फायदे मिलने पर वह पद्धति सभी को प्रिय हो जाती है। इलैक्ट्रोपैथी भी धीरे-धीरे मान्य हो रही है। राजस्थान सरकार ने साल 2018 में इसको मान्यता दी है। विधायक सुधीर सिंगला ने कहा कि हरियाणा में इलैक्ट्रोपैथी की मान्यता के लिए उन्होंने हरियाणा विधानसभा में इस विषय को उठाया था। उन्हें विश्वास है कि जल्द ही इस पद्धति को भी हरियाणा सरकार द्वारा भी इसको मान्यता दे दी जायेगी।

विधायक ने कहा कि एक डाक्टर का कर्तव्य सदैव सभी की सेवा करना होता है। सेवाभाव से किया गया हर कार्य में सफलता जरूर मिलती है। उन्होंने चिकित्सकों का आह्वान किया कि आप सब भी सदैव अपने हुनर को जनसेवा में लगाएं। लोगों की सेवा करते रहें। उन्हें पूर्ण विश्वास है कि यह पद्धति एक दिन विश्व भर में नाम रोशन करेगी। भारत में इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा पद्धति को लोग पहचानने लगे हैं, क्योंकि इससे शुगर, हार्ट समस्या, कैंसर, काला पीलिया, डेंगू, एड्स जैसी खतरनाक बीमारियों का इलाज संभव है। कोरोना काल में इम्युनिटी बढ़ाने में इलेक्ट्रो होम्योपैथी दवाइयों का विशेष योगदान रहा है। इलेक्ट्रोपैथी में दवाओं का निर्माण नॉन पॉइजन वनस्पति से किया जाता है, करीब 114 पौधों से इसकी दवा बनती है।  

कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सूरजपाल अम्मू, गुरुग्राम के पूर्व डिप्टी मेयर परमिंदर कटारिया, मनोज गर्ग, अशोक सैन, इलेक्ट्रोपैथी प्रेक्टिशनर काउंसिल के अध्यक्ष डॉ. ललित गोला, डॉक्टर मुनीपाल सिकरीवाल, डॉक्टर संजय आर्य, डॉ. रमेश वर्मा, डॉक्टर आरके पुंडीर, डा. राकेश कुमार, डॉ. नितिन कुमार, डॉ. रवि राजपूत, एडवोकेट रोहित मदान, डॉ. पुष्पा, डॉ. गौतम तंवर, डॉक्टर भारत भूषण तथा टीम के अन्य सदस्य मौजूद रहे।

  • Facebook
  • Twitter
  • LinkedIn
  • More Networks
Copy link
Powered by Social Snap