• Sun. Jan 24th, 2021

Bharat Sarathi

A Complete News Website

आज देवउठनी एकादशी से शुरु हो जाएंगे शादी-विवाह समारोह

Nov 24, 2020

भारत सारथी,गुरुग्राम – कोरोना महामारी काल में बड़ी संख्या में शादी-विवाह समारोह को स्थगित कर दिया गया था। लोगों ने समारोह की तारीखें भी आगे बढ़ा दी थी। आज बुधवार को देवउठनी एकादशी के अबूझ मुहूर्त पर बड़ी संख्या में शादी-विवाह समारोह शुरु हो जाएंगे। देवउठनी पर विवाह समारोह की धूम रहेगी। लोगों ने समारोह स्थलों पर पूरी तैयारियां भी कर ली हैं। बताया जाता है कि शहर के सभी छोटे-बड़े समारोह स्थल शादी-विवाह के लिए बुक किए जा चुके हैं। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना महामारी के नियम सख्त होने के कारण दिल्ली वालों ने भी गुडग़ांव क्षेत्र में शादी समारोह आयोजित करने के लिए प्रयास शुरु कर दिए हैं। क्योंकि गुडग़ांव में दिल्ली जैसी सख्ती प्रदेश सरकार ने नहीं की है। शादी समारोह में जिला प्रशासन के आदेशों का पालन कराने के आदेश जारी किए गए हैं। यहां पर भी शादी-विवाह समारोह में शामिल होने वालों की संख्या प्रदेश सरकार ने सीमित की हुई है। 

पर यह संख्या दिल्ली से अधिक है। कोरोना संक्रमण के चलते लोगों ने अप्रैल व मई में होने वाली अधिकांश शादियों को नवम्बर-दिसम्बर में करने के लिए टाल दिया था। लोगों का मानना था कि नवम्बर-दिसम्बर माह में कोरोना महामारी का प्रकोप खत्म हो जाएगा और वे धूमधड़ाके से शादियां करेंगे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। कोरोना का प्रकोप घटने की बजाय बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना का खतरा पूरी तरह से टला नहीं है। फिर भी लोगों ने शादियां करने का निर्णय ले ही लिया। देवउठनी के साथ ही एक दिसम्बर के लिए भी समारोह स्थलों की बुकिंग लगभग पूरी ही हो चुकी है। दिल्ली में शादी-विवाह समारोह में 200 लोगों की बजाय 50 लोगों को ही शामिल करने का आदेश जारी किया हुआ है। दिल्ली वालों ने भी गुडग़ांव में शादी करने के लिए समारोह स्थल बुक करा लिए हैं। बैंड-बाजों की संख्या भी 21 से घटाकर 5 या 7 कर दी गई है। इस संख्या के सीमित कर देने से बैंड वालों को भी भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है।

इसी प्रकार कैटरिंग वालों का भी बुरा हाल है। शादी समारोह में कई बदलाव भी देखने को मिल रहे हैं। लोगों ने निमंत्रण कार्ड छपवाने की बजाय वाट्सअप पर ही आमंत्रित करने का रास्ता ढूंढ निकाला है। इन आयोजनों में भी यह पूरा ध्यान रखा जा रहा है कि नजदीकी लोगों को ही समारोह में आमंत्रित किया जाए। उधर पुलिस प्रशासन ने भी शादी विवाह समारोह के आयोजनों पर पूरी नजर रखाने की योजना बनाई है। पुलिस की टीमों का गठन भी कर दिया गया है। यह टीमें समारोह स्थलों का औचक निरीक्षण करेंगी और यह सुनिश्चित करेंगी कि कोरोना महामारी बचाव के लिए जारी दिशा-निर्देशों का पालन हो रहा है कि नहीं। जहां पर दिशा-निर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा होगा, वहां पर पुलिस टीम कानूनी कार्यवाही भी करेगी, जिसमें बैंकट हॉल के मालिक व आयोजकों के खिलाफ आपराधिक मामला भी दर्ज किया जा सकता है और उस बैंकट हॉल को सील भी किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap