• Sun. Jan 17th, 2021

Bharat Sarathi

A Complete News Website

वर्तमान हरियाणा सरकार हमारी वजह से बनी है और जब हमारा सरकार बनाने में इतना भारी योगदान हो तो उस हिसाब से हमें महत्व मिलना भी चाहिए : केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह

गुरुग्राम 14 जनवरी। केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने आज कहा कि जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं, उनका क्या फल निकलेगा यह तो मुझे पता नहीं लेकिन मेरा मानना है कि आज के दिन हमें प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी में विश्वास रखना चाहिए। 

राव इंद्रजीत सिंह आज गुरूग्राम जिला के गांव शिकोहपुर में जिला परिषद के पूर्व चेयरमैन राव अभय सिंह की माता स्वर्गीय श्रीमति नंदकौर की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। श्रीमति नंदकौर का 30 नवंबर 2017 को 86 वर्ष की आयु में स्वर्गवास हुआ था। राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि राव अभय सिंह के पिता स्वर्गीय राव अर्जुन सिंह पहलवान की प्रतिमा का अनावरण उनके पिता स्वर्गीय राव बिरेंद्र सिंह ने किया था इसीलिए उन्होंने राव अभय सिंह की माता की प्रतिमा का अनावरण करने के लिए समय निकाला। उन्होंने कहा कि एक साल गुजर गया कोरोना की वजह से हम एक-दूसरे से मुखातिब नहीं हो पाए। किसी ने सोचा भी नहीं था कि ऐसा समय आएगा। 

इस मौके पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि वर्तमान हरियाणा सरकार हमारी वजह से बनी है और जब हमारा सरकार बनाने में इतना भारी योगदान हो तो उस हिसाब से हमें महत्व मिलना भी चाहिए। उन्होंने कहा कि मानेसर नगर निगम के गठन की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है, जिस पर चिंता व्यक्त की गई है कि अब हमारी जेब से हाउस टैक्स के नाम पर पैसा निकाला जाएगा। इस बारे में क्या होगा मैं नहीं जानता पर मेरा प्रयास रहेगा कि मानेसर नगर निगम में शामिल किए गए गांवो के लोगों से हाउस टैक्स ना लिया जाए। उन्होंने बताया कि दिल्ली में ग्रामीणों से हाउस टैक्स नहीं लिया जाता। साथ ही यह भी कहा कि गुरूग्राम मंे नगर निगम बना तब भी उनका यही मत था। 

गांव शिकोहपुर की सड़क को राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 48 से जोड़ने वाले स्थान पर फुट ओवर ब्रिज बनाने की मांग पर केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने आश्वासन दिया कि यह ब्रिज बन जाएगा। गंाव में ही स्थित कृषि विज्ञान कंेद्र केे बारे में कंेद्रीय मंत्री ने कहा कि उनके पिता राव बिरेंद्र सिंह ने कंेद्रीय कृषि मंत्री रहते हुए उस समय यह केंद्र बनवाया था। इसका फायदा ग्रामीणों को मिलना चाहिए था लेकिन ग्रामीण कह रहे हैं कि नहीं मिल पा रहा है। इसके अलावा, इस केंद्र की जमीन पर अनुसूचित जाति के परिवारों की एक काॅलोनी भी बन गई, जिसको लेकर वे एक बार केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मिल चुके हैं लेकिन मामला अभी तक हल नहीं हुआ है। उन्होंने विश्वास दिलाया कि इस मामले को लेकर वे एक बार फिर गांव के प्रतिनिधि मण्डल के साथ श्री तोमर से मिलेंगे और इसे हल करवाने का प्रयास करेंगे ताकि उन परिवारों को वहां से ना उजाड़ा जाए। पहले इस मामले का हल होने के बाद ही कृषि विज्ञान केंद्र की उपयोगिता को लेकर योजना बनवाई जाएगी। 

राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि कोरोना महामारी की वजह से दुनिया के सभी देशों की इकोनोमी डूब गई थी लेकिन आज हमारे देश की इकोनोमी किसान के बलबूते खड़ी हुई है। कृषि के योगदान की वजह से भारत की जीडीपी 3 प्रतिशत प्लस में रही है। उन्होंने कहा कि अब कोरोना का टीका आने से उम्मीद है कि दोबारा से हम सब पहले की तरह जिंदगी बसर करेंगे, तब तक सभी सावधानी रखें। 

इससे पहले अपने विचार रखते हुए हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री ओमप्रकाश यादव ने कहा कि राव अभय सिंह ने अपनी माता की मुर्ति स्थापना करके उनकी याद को चिर स्मर्णीय बना दिया है। उन्होंने कहा कि इस परिवार से उनका गहरा नाता रहा है और इनकी माता बहुत ही धार्मिक प्रवृति की महिला थी, जिनके दिए संस्कारों पर चलकर ही इन्होंने यह कार्य किया है। 

गुरूग्राम जिला परिषद के पूर्व चेयरमैन राव अभय सिंह ने आए हुए सभी अतिथियों का आभार जताया और मानेसर नगर निगम बनवाने के लिए राव इंद्रजीत सिंह का भी धन्यवाद किया। मध्यप्रदेश के भोपाल से विधायक श्रीमति कृष्णा ने भी अपने विचार रखते हुए कहा कि व्यक्ति के जीवन में सफलता में सबसे बड़ा श्रेय उसके पूर्वजो का होता है। 

इस अवसर पर पहाड़ की बहतरी अर्थात् 72 पंचायतों की ओर से केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह को पगड़ी पहनाकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित राव इंद्रजीत सिंह की पुत्री आरती राव को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में हरियाणा सरकार में मंत्री ओम प्रकाश यादव के अलावा, मेयर मधु आजाद, उनके पति अशोक आजाद, सोहना के पूर्व विधायक तेजपाल तंवर, भाजपा नेता प्रदीप जैलदार, जिला परिषद के उपाध्यक्ष संजीव यादव, राजस्थान से पूर्व विधायक हेतराम यादव, सतीश सरपंच कन्हैई, हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के पूर्व सदस्य प्रोफेसर हंसराज यादव सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap