• Sun. Jan 16th, 2022

Bharat Sarathi

A Complete News Website

आंगनवाड़ी वर्कर्स एवं हैल्पर्स ने मांगों के लिए कार्यकारी अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

चरखी दादरी जयवीर फोगाट

6 दिसम्बर, आंगनवाड़ी वर्कर हैल्पर यूनियन का धरना प्रदर्शन जिला चरखी दादरी के लघु सचिवालय में हुआ। जिसमें जिले की सभी आंगनवाड़ी वर्कर हैल्पर ने भाग लिया। प्रदर्शन करते हुए महिला एवं बाल विकास विभाग दादरी की कार्यक्रम अधिकारी को आंगनवाड़ी वर्कर्स एवं हैल्परों का पांच माह का मानदेय नहीं दिए जाने एवं अन्य मांगों को पूरा करने बारे ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के दौरान उन्होंने बताया कि जीवन यापन चलने में भारी दिक्कतों का सामना किया जा रहा है, क्योंकि अधिकतर आंगनवाड़ी वर्कर्स एवं हैल्पर्स विध्वा है, उनके पास इसके अतिरिक्त कोई ओर आय का साधन नहीं है जिससे परिवार का पालन-पोषण करना कठिन हो गया है। 

उन्होंने जल्द से जल्द पांच माह का वेतन दिलवाने की गुहार लगाई है। यूनियन की प्रधान ने बताया कि हमें पोषण ट्रेक्कर की ट्रेनिंग देने हेतु दबाव बनाया जा रहा है जबकि हमने पोषण ट्रेक्कर की माननीय उच्च न्यायालय, चण्डीगढ़ से स्टे ले रखी है। जब तक माननीय उच्च न्यायालय से कोई निर्णय नहीं दिया जाता है, तब तक हम पोषण ट्रेक्कर की ट्रेनिंग का काम नहीं करेंगे और आंगनवाड़ी ऑनलाईन काम नहीं करेगी। कार्यक्रम अधिकारी को आट से संबंधित समस्या से अवगत करवाते हुए बताया कि जिला दादरी खण्ड प्रथम में 50 किलो आटा प्रत्येक सेंटर पर भेजा गया था, जो कि बिल्कुल गंदा व सड़ा हुआ था जिसमें कीड़े घुम रहे थे जिस कारण यह आटा बच्चों को बांटने लायक नहीं था। इस बारे तुरंत प्रभाव से जिला कार्यालय में सूचना दी तथा बार-बार लिखित में प्रार्थना-पत्र देने के बावजूद भी विभाग इस आटे को नहीं उठा रहा है। आटे से कीड़े निकलकर भवन में घुम रहे है जिसके कारण बच्चों में बीमारी फैलने का खतरा बना रहता है। 8 माह बीत जाने के बाद भी विभाग की आंखे नहीं खुल रही है। अतः जल्द से जल्द इस आटे को उठाने की भी मांग रखी गई है। 

उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त यह भी मांग की है कि जून, 2021 को हमारी वर्कर्स बहनों से 1650/- रूपये सिलेण्डर खरीदने के लिए लिये थे। 6 माह बीत जाने के बाद भी हमें ना तो सिलेण्डर दिया गया है और ना ही हमारे पैसे वापिस दिए गए है। अतः हमारे से ली गई राशि वापिस दिलवाई जाए तथा भरे हुए सिलेण्डर विभाग की तरफ से निःशुल्क दिए जाए व अप्रैल 2021 में जिन वर्करों को लगे हुए 10 साल पूरे हो चुके है, उनका इंकरीमेंट लागू आदि मांगों बारे ज्ञापन सौंपा गया। 

प्रधान राजवंती फौगाट ने बताया कि इस दौरान 8 दिसम्बर को शुरू होने वाली हड़ताल के लिए कार्यक्रम अधिकारी को हड़ताल नोटिस भी दिया गया। इस अवसर पर जिला उप-प्रधान राजवंती कमोद व गीता मिर्च, खण्ड प्रधान मीरा सांवड़, खण्ड उप-प्रधान उषा सांजरवास, सर्कल प्रधान प्रेम सांजरवास व बिमला समसपुर, खण्ड सचिव सुनील लोहरवाड़ा, रेनू रावलधी, मंजीत बौंद, मेला बाढ़डा, जगवंती बाढ़डा, प्रमिला रानीला, संदीप रानीला एवं सैकड़ों आंगनवाड़ी वर्कर्स एवं हैल्पर्स बहनें उपस्थित थी।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copy link
Powered by Social Snap