• Sun. Jun 26th, 2022

Bharat Sarathi

A Complete News Website

चरखी दादरी जयवीर फोगाट

18 मई,दादरी जिला की पहाडिय़ों के ऊपर बने तालाबों को भी संरक्षण प्रदान करते हुए नए प्रोजेक्ट तैयार किए जाएं। इससे जलसंचय तो होगा ही, पहाड़ी पर रह रहे जंगली जानवरों और पशु-पक्षियों को भी पानी मिल सकेगा।  

भिवानी-महेेंद्रगढ़ के सांसद धर्मबीर सिंह ने आज उपायुक्त श्यामलाल पूनिया के साथ आयोजित हुई अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए ये शब्द कहे। गांव अटेला के मौजिज व्यक्ति तथा सिंचाई विभाग के अधिकारियों के साथ सांसद धर्मबीर सिंह ने आज सुबह अटेला-सीसवाला की पहाड़ी का दौरा किया। अरावली पर्वत श्रृंखला की इस पहाड़ी पर खनन कार्य नहीं किया जा रहा है और यहां घना जंगल व दो तालाब बने हुए हैं। इन तालाबों को नया स्वरूप देकर इसे एक दर्शनीय स्थल के रूप में विकसित किया जा सकता है। इसके अलावा  वन विभाग की ओर से इस स्थान पर वृक्षारोपण करवाया जा सकता है।

ग्रामीणों ने सांसद से इन तालाबों का नवीनीकरण करवाने, पहाड़ तक सडक़ बनवाने और लोहारू कैनाल से ऊपर चोटी तक पानी पहुंचाने का अनुरोध किया था। जिस पर सांसद ने आज यह दौरा किया। इसी पहाड़ी के नजदीक गांव अटेला की गौशाला भी बनी हुई है। सांसद ने अधिकारियों के साथ मौके का निरीक्षण कर बाद में स्थानीय लघु सचिवालय परिसर में अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने उपायुक्त को कहा कि पहाड़ी के नीचे तलहटी में एक पौंड बनवाया जाए। इस पौंड को पाईपलाईन बिछाकर नहरी पानी से भरा जा सकता है और इस पर सबमर्सिबल की मोटर लगाकर ऊपर पानी ले जाया जा सकता है। इससे ये तालाब जीवित रहेंगे तथा जंगली जानवरों जैसे नीलगाय, हिरण, गीदड़ आदि को पानी निरंतर मिलता रहेगा। उन्होंने बताया कि गौशाला की गायें भी घास चरने के लिए इस पहाड़ी पर जाती रहती हैं। उन्होंने कहा कि दादरी जिला के लिए यह एक सुंदर प्रोजेक्ट होगा और अटल भूजल योजना, अमृत सरोवर जैसी किसी भी स्कीम से इसको जोड़ा जा सकता है।

सांसद धर्मबीर सिंह ने बताया कि इस पहाड़ी की ऊंचाई करीब आठ सौ मीटर की है। रास्ता बनने से यहां आम नागरिक भी आसानी से चोटी तक जा सकेंगे और अटेला के दर्शनीय स्थल को देख सकेंगे। उपायुक्त श्यामलाल पूनिया ने कहा कि इस प्रोजेक्ट को सिरे चढ़ाने के लिए ठोस कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने सिंचाई, वन विभाग व पंचायत विभाग को अटेला पहाड़ी के लिए एक जल परियोजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पहाड़ी की चोटी तक सडक़ बनवाने के लिए भी कार्य किया जाएगा। इस मौके पर एसडीएम डा. विरेंद्र सिंह, नगराधीश नरेंद्र कुमार, कार्यकारी अभियंता वेदपाल सांगवान, रामकिशन शर्मा एडवोकेट, अजीत सिंह, सुधीर चांदवास, कृष्ण, वेदपाल इत्यादि उपस्थित रहे।

Copy link
Powered by Social Snap