• Sun. Jun 26th, 2022

Bharat Sarathi

A Complete News Website

जयहिन्द बोले केंद्र सरकार कश्मीरी हिंदुओ को अपने खर्चे से एके-47 दे

26 जून को जंतर मंतर पर पहुँचकर अपनी ताकत का अहसास करवाएं

कश्मीरी हिन्दुओ के नाम पर वोट लेने वाली सरकार सुरक्षा में असमर्थ

फतह सिंह उजाला
गुड़गांव । केंद्र सरकार  ’कश्मीरी हिंदुओ को अपने खर्चे से एके-47 दे । अग्निवीर के नाम पर युवाओं को सरकार गुलाम बनाना चाहती है। समाज की 37 बिरादरी कमजोर नही हैं , इसके लिए 26 जून को दिल्ली जंतर मंतर पर पहुँचकर अपनी ताकत का अहसास सरकार को करवाए । हर रोज कश्मीर में आतंकवादियो द्वारा किसी न किसी हिन्दू और कश्मीरी पंडितों की हत्या की जा रही हैं । दूसरी तरफ केंद्र की मोदी सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी हुई हैं, कश्मीरी पंडितों और वहां रह रहे हिन्दुओ के लिए कुछ नही कर रही हैं। जिससे कश्मीरी पंडित कश्मीर से पलायन करने को मजबूर हैं। गत दिनों कई कश्मीरी हिन्दुओ को टारगेट करके मारा जा चुका हैं । जबकि सरकार कश्मीरियो के लिए अनेक कार्य करने का दम भर रही है।ं सरकार कश्मीरी हिन्दुओ के नाम पर वोट तो ले लेती हैं , लेकिन उन्हें उनकी सुरक्षा के साधन उपलब्ध कराने में असमर्थ हैं। यह बात नवीन जयहिन्द ने 26 जून को दिल्ली जंतर-मंतर पर पंहुचने का आहवान करते हुए अपनी बात पत्रकारों से चर्चा के दौरान कही। नवीन जयहिन्द ने सभी 37 बिरादरियों को उनकी ताकत का अहसास कराया । उन्होंने कहा कि गौर करने योग्य बात हैं गाँव गॉव और अलग अलग जिलों में सभी बिरादरियों को जागरूक भी कर रहे हैं । हर जिले में समर्थन भी मिल रहा हैं , 26 जून को कश्मीरी हिन्दुओ के लिए दिल्ली के जंतर मंतर पर होने वाले ललकार को पूरा देश देखेगा ओर  देश के नेताओ की असलियत जनता के सामने आएगी।

एमपी और एमएलए परिजनों को बनाए अग्निवीर
जयहिन्द ने कहा कि मनोहरलाल खट्टर जवानों को अग्निपथ के तहत चार साल नौकरी करने के बाद उन्हें वापिस आने पर सरकारी नौकरी देने की बात कह रहे है। हम  मुख्यमंत्री से यह पूछना चाहते है कि जवानों को फौज में ही पक्की अथवा सरकारी नौकरी क्यों नही दी जा सकती। जयहिन्द ने कहा कि मनोहरलाल  हमेशा के लिए मुख्यमंत्री नही रहेंगे , जो वे चार साल बाद जवानों को नौकरी का वादा कर रहे है। साथ जी जयहिन्द ने कहा जो मुख्यमंत्री ने जो पहले वादे किए है उन्हें ही पूरा करके दिखाए। जयहिन्द ने कहा कि अगर अग्निपथ योजना इतनी ही अच्छी है तो सभी नेता व मंत्री अपने-अपने बच्चो को फ़ौज में भर्ती करवाए। चाहे सरकार उनको तीस हजार रुपए तनख्वा की जगह एक लाख रुपए दे, पर नेता अपने बच्चों को भर्ती जरूर करवाए।

युवा केवल पैसों के लिए फ़ौज में नही जाते
जयहिन्द ने कहा कि सरकार ने अग्निपथ योजना लाकर युवाओ के भविष्य के साथ भद्दा मजाक किया हैं। युवा केवल पैसों के लिए फ़ौज में नही जाते , बल्कि युवाओ में देश सेवा का जुनून होता हैं। एक युवा फौज में जाने के लिए सुबह 3-4 बजे उठता हैं और सालों साल भर्ती की तैयारी करता हैं और भर्ती होने के लिए खूब पसीना बहाते हैं। युवा फौज में नाम , नमक और निशान के लिए युद्ध मे लड़ते हैं और अपने प्राणों की आहुति देश के लिए दे देते हैं। जबकि सरकार बेरोजगारो को 4 साल के लिए ठेके पर फौज में लगाना चाहती हैं , जिसके बाद उन्हें फौज से निकाल दिया जाएगा । अग्निपथ योजना के तहत ना तो उन्हें वो सरकारी सेवाओं का लाभ मिलेगा और ना ही पेंशन मिलेगी और न ही वो सुविधाएं मिलेंगी जो वर्तमान में मिल रही हैं। इसके साथ ही एक्स सर्विस मैन  कोटा भी खत्म हो जाएगा । इसलिए केंद्र की भाजपा सरकार को अपने इस फैसले पर पुर्नविचार करना चाहिए । क्योकि भारतीय सेना की सदियो से चली आ रही मजबूत और सदृढ़ कार्य प्रणाली भी खत्म हो जाएगी । 4 साल के लिए भर्ती हुए युवा मोर्चे पर जाने से पहले ही अपने भविष्य को लेकर चिंतित हो जाएगा । जिससे उसमें मोर्चे पर जाने से पहले ही नौकरी के प्रति मन मे शंका खड़ी होगी।

लाल चौक से लाइव करने वाले एमपी-एमएलए को 1 लाख
जयहिन्द ने कहा कि कश्मीर में लोगो को टारगेट करके मार जा रहा है। देश के सांसद विधायक या मंत्री घर बैठकर कश्मीर के हिन्दुओ के पलायन पर ट्वीट करते है, यह बहुत ह़ी शर्मनाक बात हैं। अगर वास्तव में सांसद, विधायक कश्मीरी हिन्दुओ का भला चाहते हैं तो कश्मीर के लाल चौक पर जाकर 1 घण्टा फेसबुक लाइव करे,  तब वास्तव में देश को अहसास होगा कि देश के सांसद विधायक कश्मीरी हिन्दुओ के प्रति जवाबदेह हैं । साथ ही जयहिन्द ने कहा फेसबुक लाइव करने वाले सांसद विधायको 1 लाख रुपये इनाम देने के साथ-साथ उन्हें लाल चौक पर होटल में ही ठहरने ओर खाने पीने का सब खर्चा देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copy link
Powered by Social Snap